24 C
New Delhi
Sunday, February 25, 2024
-Advertisement-

रोहतास के नोखा में पुलिस की बड़ी कार्रवाई, बंद मकान से बरामद की 108 लीटर शराब

रोहतासः जिले की नोखा पुलिस को एक बड़ी कामयाबी हाथ लगी है। पुलिस ने बड़ी कार्रवाई करते हुए एक बंद मकान से 108 लीटर शराब बरामद की है। यह मकान बाजार से सटे पटेलनगर मुहल्ले में स्थित है। ख़बर लिखे जाने तक मामले में किसी कि गिरफ्तारी नहीं हो सकी है। मकान मालिक के खिलाफ प्राथमीकि दर्ज की जा रही है।

इस मुत्तल्लिक नोखा थानाध्यक्ष नरोत्तमचंद्र ने बताया कि पुलिस को सूचना मिली थी कि उक्त मकान से शराब का सिंडिकेट संचालित किया जा रहा है। यहां से शहर भर में लोगों को शराब मुहैया कराई जाती है। सूचना पाकर पुलिस ने टोह लेनी शुरू कि और पुष्टि होने के बाद अंचलाधिकारी के नेतृत्व में मकान पर धावा बोल दिया। कार्रवाई में पुलिस ने मकान के अंदर छिपा कर रखी गई 108 लीटर शराब बरामद ली।

Read also: Lucknow Double Murder: छात्रा ने मारी मां और भाई को गोली, कहा- उसे दिखते थे भूत

मकान मालिक के खिलाफ प्रथमिकी दर्ज

बरामद शराब में मैकडोवेल व इंपीरियल ब्लू जैसी महंगी व विदेशी शराब शामिल है। इस मामले में किसी की गिरफ्तारी के बाबत उन्होंने बताया कि अभी तक किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है। मकान मालिक के खिलाफ प्रथमिकी दर्ज की गई है। इस दिशा में आगे तब तक प्रयास जारी रहेगा जब तक शराब का धंधेबाज पुलिस की गिरफ्त में नहीं आ जाता।

मार्च महिने में हुई थी नोखा थाना में पदस्थापित एक दारोगा की गिरफ्तारी

आपको बता दें कुछ माह पहले DG सेल ने बड़ी कार्रवाई करते हुए नोखा थाना में पदस्थापित एक दारोगा प्रमोद कुमार यादव को गिरफ्तार किया था। गिरफ्तार दारोगा प्रमोद यादव पर शराब कारोबार में संलिप्त होने और माफियाओं को संरक्षण देने का आरोप है। उक्त दारोगा अभी भी कारावास में हैं और विभागीय स्तर पर मामले की जांच चल रही है।

शराब पर रोक लगानी है, तो पुलिस को करनी होगी ईमानदारी से कार्रवाई

बहरहाल, कुछ माह पहले DG सेल द्वारा नोखा थाना में पदस्थापित एक दारोगा की गिरफ्तारी, फिर उसी थाना क्षेत्र से स्थानीय पुलिस द्वारा आज एक बंद मकान से भारी मात्रा में शराब की बरामदगी। दोनों को जोड़कर देखा जाए तो नोखा शराब कारोबार का सेफ जोन कहा जा सकता है। अगर पुलिस इस मसले पर गंभीरता से विचार करे और इमानदारी से कार्रवाई करे तो कई और ऐसे ठीकानों का उद्भेदन हो सकता है जहां से शराब का सिंडिकेट चलाया जाता है।