15.6 C
New Delhi
Wednesday, January 20, 2021

गैरों से नहीं अपनों से ही मार खायी है हिन्दी ने- कृष्ण बलदेव वैद

नई दिल्ली: वरिष्ठ साहित्यकार कृष्ण बलदेव वैद ने हिन्दी के उचित रूप से प्रचार प्रसार नहीं का दोष आलोचकों, प्रकाशकों और प्राध्यापकों सिर पर...

कश्मीर के दर्द को बयां कर रही है कश्मीरी कविता- डॉ. रहमान राही

नई दिल्ली: ज्ञानपीठ पुरस्कार से सम्मानित होने वाले पहले कश्मीरी लेखक डॉ. रहमान राही ने कहा कि कश्मीरी आवाम के दुख और तकलीफों को...

मशहूर लेखिका सादिया देहलवी का कैंसर से लंबी जंग के बाद निधन

नई दिल्लीः दिल्ली की मशहूर लेखिका एवं कार्यकर्ता सादिया देहलवी का कैंसर से लंबी जंग लड़ने के बाद निधन हो गया। वह 63 वर्ष...

साहित्य और टेलीविजन के बीच तालमेल नहीं — असगर वजाहत

नई दिल्ली: वरिष्ठ नाटककार और अनुवादक असगर वजाहत का कहना है कि हिन्दी में व्यावसायिक नाट्य समूहों का अभाव है। साहित्य और टेलीविजन की...

सरकार का रूख साहित्य विरोधी- वरिष्ठ साहित्यकार अमरकांत

नई दिल्ली: वर्ष 2009 के 45वें ज्ञानपीठ पुरस्कार के लिए श्री लाल शुक्ल के साथ संयुक्त विजेता वरिष्ठ साहित्यकार अमरकांत का कहना है कि...

आर्थिक उपनिवेश के दौर से गुजर रही है हिन्दी- प्रभाकर श्रोत्रिय

नई दिल्ली : वरिष्ठ लेखक और संपादक प्रभाकर श्रोत्रिय का कहना है कि वर्तमान समय में हिन्दी में अंग्रेजी के शब्दों का प्रयोग चिंता...

लेटेस्ट अपडेट

error: Content is protected !!