31.1 C
New Delhi
Wednesday, June 23, 2021
Advertisement

देसी ऐप: टिकटॉक की तरह चिंगारी ऐप पर क्रिएटर्स को मिलेगा कमाई का मौका

Advertisement

नई दिल्ली: चीनी ऐप टिकटॉक के बैन होने के बाद देसी ऐप चिंगारी भारतीयों के स्मार्टफोन में अपनी जगह बना रहा है। साथ ही अपने फीचर्स को लगातार अपडेट भी कर रहा है। टिकटॉक की तरह ही शॉर्ट वीडियो प्लेटफॉर्म चिंगारी ऐप पर अब क्रिएटर्स अपने टैलेंट को शोकेज कर अच्छी-खासी रकम कमा सकेंगे। ऐप डेवलपर्स का कहना है कि वह म्यूजिक क्रिएटर्स को उनके गाने की पहुंच या हिट्स के आधार पर पेमेंट करेंगे। यही नहीं, चिंगारी म्यूजिक कंपोजर्स के हिट गानों के लिए रेवेन्यू शेयरिंग भी करेगा।

हम अपने देश के टैलेंट को प्रमोट करेंगे

कंपनी के को-फाउंडर और चीफ प्रोडक्ट ऑफिसर सुमित घोष ने मनी भास्कर से बातचीत में बताया कि देसी कंटेंट बनानेवालों के लिए चिंगारी पहले ही एक हॉटस्पॉट के रूप में उभरा है। इसे देखते हुए हम इस प्लेटफॉर्म को म्युजिक कंपोजर्स के लिए भी दे रहे हैं। 16 मिलियन यूजर्स के साथ चिंगारी प्रतिभाशाली म्यूजिक कंपोजर्स को अच्छी खासी रीच देगा। इसका उद्देश्य यह है कि हमारे देश के टैलेंट को प्रमोट किया जाए।

Advertisement

जल्द ही हम डांस और अन्य टैलेंट के जरिए क्रिएटर्स को अपने प्लेटफॉर्म से कमाने के मौका देंगे। हालांकि कंटेंट पर खास ध्यान दिया जाएगा। बता दें कि टिकटॉक पर क्रिएटर्स टैलेंट शो करके लाखों में कमाते थे। वहीं, ऐप डेवलपर्स ने नया यूएक्स अनाउंस किया है। यह अगले हफ्ते से लाइव होगा। चिंगारी टीम ऐप के यूएक्स को पूरी तरह से रीवैंप (नवीनीकरण) करेगा और इसे और भी ज्यादा यूजर्स फ्रेंडली बनाएगा।

Advertisement

जुलाई माह के अंत तक कर्मचारियों की संख्या चार गुना बढ़ाएगी

यूजर्स के बीच तेजी से बढ़ रही डिमांड को देखते हुए ऐप को लगातार अपडेट किया जा रहा है। ऐसे में कंपनी को भारी संख्या में एम्पलॉईज की जरूरत होगी। सुमित बताते हैं कि फिलहाल हमारे पास 25 कर्मचारी ही हैं, जल्द ही हम इस माह के अंत तक या अगस्त माह के पहले सप्ताह तक कर्मचारियों की संख्या बढ़ाकर 100 करेंगे। यानी की चार गुना हायरिंग करेगी। चिंगारी ऐप को कई कंपनियों की तरफ से फंडिंग और इन्वेस्टर्स के ऑफर भी मिले हैं।

डाउनलोड में गूगल प्ले स्टोर पर चिंगारी ने टॉप-3 में बनाई जगह

कंपनी के मुताबिक, वर्तमान में चिंगारी ऐप ने गूगल प्ले स्टोर पर टॉप- 3 मुक्त ऐप्स में से एक बना हुआ है। ऐप ने केवल 25 दिनों में 16 मिलियन से अधिक नए यूजर्स बनाए हैं। चिंगारी ऐप के को-फाउंडर बिस्वमाता नायक ने कहा कि इस समय लगभग हर घंटे तीन लाख नए यूजर्स एड हो रहे हैं और प्रति घंटे 2.2 मिलियन वीडियो स्वाइप / व्यू रिकॉर्ड कर रहे हैं। पूरी चिंगारी टीम चौबीसों घंटे कड़ी मेहनत कर रही है और बढ़ते यूजर्स के साथ जुड़ने और उन्हें सहज अनुभव प्रदान करने की कोशिश कर रही है। बिजनेसमैन आनंद महिन्द्रा समेत कई नेताओं ने इसे सपोर्ट किया है और इस ऐप से जुड़ रहे हैं।

चिंगारी प्लेटफार्म पर क्रिएटर्स को प्रति व्यू मिलेंगे पैसे

चिंगारी यूजर्स को अपने वीडियो के लिए प्वाइंट्स (प्रति व्यू) मिलते हैं। इसे बाद में पैसे में रिडीम किया जा सकता है। समाचार फ़ीड फैशन में वीडियो अपलोड करने और कंटेंट सर्च के अलावा यूजर्स को नए लोगों के साथ बातचीत करने और उनके साथ कंटेंट शेयर करने की अनुमति देता है। ऐप ट्रेंडिंग न्यूज, एंटरटेनमेंट न्यूज, लव कोट्स और बहुत कुछ प्रदान करता है।

इस ऐप में 10 भाषाओं का सपोर्ट

चिंगारी ऐप का इंटरफेस टिक टॉक जैसा ही है लेकिन अभी इसमें कुछ सुधार की जरूरत है। इस ऐप में 10 भाषाओं का सपोर्ट मिलेगा, जिसमें अंग्रेजी, हिंदी, बंगला, गुजराती, मराठी, कन्नड़, पंजाबी, मलयालम, तमिल और तेलुगु शामिल हैं। यह ऐप एंड्रायड और आईओएस यूजर्स के लिए मुफ्त में उपलब्ध है।

Read also: टिकटॉक समेत 59 चाइनीज ऐप भारत में बैन, देखिए पूरी लिस्ट

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

लेटेस्ट अपडेट

error: Content is protected !!