32.1 C
New Delhi
Saturday, July 24, 2021

सचिन पायलट के साथ खड़े हुए कांग्रेस के मीणा विधायक, निशाने पर गहलोत गुट

जयपुरः राजस्थान की राजनीति में कांग्रेस की कलह खत्म होने का नाम नहीं ले रही। कांग्रेस विधायक एक दूसरे पर छींटाकशी कर रहे हैं और प्रदेश से लेकर दिल्ली तक सभी आलाकामान खामोश हैं। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत गुट के कांग्रेस के एसोसिएट मेंबर निर्दलीय विधायक रामकेश मीणा के सचिन पायलट को लेकर दिए गए बयान पर कांग्रेस  विधायक मुरारी लाल समेत कई दूसरे विधायक और नेताओं ने पलटवार किया है।

दौसा से कांग्रेस विधायक मुरारी लाल मीणा का कहना है कि सचिन पायलट को किसी एक जाति का नेता ना समझें, वे 36 कौम के नेता हैं। सचिन पायलट ने प्रदेश अध्यक्ष रहते सभी समाज के लोगों को जोड़ा है। 2018 के विधानसभा चुनावों में विशेषकर गुर्जर और मीणा समाज ने तो पायलट साहब के नेतृत्व में एकजुट होकर कांग्रेस पार्टी को वोट दिया था। रामकेश जी का इन राजनीतिक परिस्थितियों में पायलट साहब के खिलाफ ऐसा बयान देना बहुत ही निंदनीय है। मुरारी लाल मीणा ने कहा कि पायलट परिवार पिछले 42 सालों से राजस्थान में कांग्रेस के लिए खून पसीना बहा रहा है। सचिन पायलट हमारे प्रदेश अध्यक्ष रहे हैं जिनकी अगुआई में सरकार बनी है उनको बाहरी कहना निंदनीय है।

Advertisement

टोडाभीम के कांग्रेस विधायक पीआर. मीणा ने बयान जारी कर कहा कि यह समाज के लिये बहुत ही दुर्भाग्यपूर्ण है कि इस तरह के स्टेटमेंट सर्व समाज के वोटों से जीतकर विधानसभा में पहुंचा एक निर्दलीय विधायक दे रहा है। दम हो तो कांग्रेस पार्टी ज्वाइन कर लें, नानी याद आजाएगी। इनका यह स्टेटमेंट समाज को खण्डित करता है। जो समाज दूसरे समाज को साथ लेकर चलने को कहता है, उस समाज का विधायक इस तरह का स्टेटमेंट देता है तो यह समाज को बर्दाश्त नहीं है। समाज ने कब से इन निर्दलीय विधायकों को समाज का प्रवक्ता बना दिया है। जो आए दिन समाज के आधार पर बयान देते रहते हैं, दम हो तो कल ही कंग्रेस पार्टी ज्वाइन करें।

Advertisement

उधर गंगापुर सिटी के पूर्व प्रधान गायत्री मीणा ने भी गंगापुर सिटी के विधायक रामकेश मीणा के बयानों के खिलाफ विधायक पर जमकर हमला बोला। गायत्री मीणा ने कहा कि पूर्व प्रदेश अध्यक्ष व पूर्व डिप्टी सीएम. सचिन पायलट साहब सर्व समाज के नेता हैं। अगर पायलट साहब एक समाज की राजनीति करते तो उनके नेतृत्व में सरकार ही नहीं बनती। सर्व समाज का सहयोग 36 कौम का साथ था तभी तो 21 से 101 सीट पाकर बहुमत पर पहुंचे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

लेटेस्ट अपडेट

error: Content is protected !!