बिजली बिल में बेतहाशा वृद्धि पर लोजपा (रा) का सरकार के खिलाफ आंदोलन का आह्वान

पटनाः बिहार में विद्युत आपूर्ति दर में अप्रत्याशित वृद्धि को लेकर लोजपा (रामविलास) के प्रदेश अध्यक्ष राजू तिवारी (Raju Tiwari) ने प्रदेश भर में चरणबद्ध आंदोलन चलाए जाने का आह्वान किया है। तिवारी ने इस आंदोलन का निर्णय सोमवार को पार्टी के सभी वरिष्ठ पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं के साथ अहम बैठक के बाद लिया।

बैठक के बाद राजू तिवारी ने बताया कि प्रदेश में बिजली दर में अप्रत्याशित वृद्धि से यह बात साफ हो गई है कि सरकार आम आवाम से सस्ती बिजली के एवज में मोटी रकम वसूल रही है। तिवारी ने कहा कि बिहार में आम आदमी को विद्युत मुहैया कराने के नाम पर सरकार ने भारी लूट मचा रखा है। सरकार द्वारा सस्ते लागत की बिजली आम आदमी को इतने महंगे दरों पर उपलब्ध कराई जा रही है कि उसे भुगतान करने में उसकी कमर टूट जा रही है।

तिवारी ने बताया कि उत्तर प्रदेश की बिजली दर 3.35-6.00 रु तक, उड़ीसा का दर 3.00-6.20 रु तक, गोवा का 1.50-4.25 रु, तमिलनाडु 1.50-6.60रु, गुजरात में 3.20-5.00 रु है, जबकि बिहार में बिजली दर 6.05 से लेकर 7.70 रु तक है, जो आम आदमी के लिए परेशानी का सबब है।

तिवारी ने कहा कि सरकार इस बढ़ोतरी की वजह अपना नुकसान बता रही है, लेकिन वह इस नुकसान के सही कारणों को सबके सामने नहीं आने देना चाहती। विभाग और सरकारी एजेंसियां अपनी ताकत और आम आदमी के टैक्स के पैसे का इस्तेमाल कर हर कदम पर जनता को बरगलाने की कोशिश करती है।

तिवारी ने चेतावनी भरे लहजे में कहा कि सरकार अपनी गलतियों और उससे होने वाले नुकसान को जिस तरिके से जनता के सर पर थोपने की कोशिश कर रही है वह वेहद निराशाजनक है। इसके विरोध में लोजपा (रा) कमर कस चुकी है और शीघ्र ही प्रदेश भर में चरणबद्ध आंदोलन चलाएगी।

पार्टी के मुख्य प्रदेश प्रवक्ता राजेश भट्ट ने बताया कि वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरीए हुई इस बैठक में मुख्य रूप से पार्टी के प्रधान महासचिव संजय पासवान, संगठन मंत्री रविंदर सिंह और संसदीय बोर्ड के प्रदेश अध्यक्ष हुलास पाण्डेय के साथ पार्टी के सभी प्रदेशस्तरीय पदाधिकारी, जिलाध्यक्ष समेत सैकड़ों नेता शामिल हुए।

News Stump
News Stumphttps://www.newsstump.com
With the system... Against the system