27.6 C
New Delhi
Tuesday, March 2, 2021

अमिताभ बच्चन का बंगला किया गया सेनिटाइज, तीनों बंगलों को कंटोनमेंट जोन बनाया

मुंबई: शनिवार शाम अमिताभ बच्चन के कोरोना पॉजिटिव आने के बाद से ही बीएमसी ने उनके बंगले को सील कर दिया है। जहां एक तरफ अमिताभ और अभिषेक का ट्रीटमेंट नानावटी अस्पताल में चल रहा है।
वहीं दूसरी तरफ बीएमसी ने उनके बंगले जलसा को सेनिटाइज करने का काम शुरू कर दिया है। अमिताभ के बंगलों जलसा, प्रतीक्षा और जनक को फिलहाल पूरी तरह से सील कर दिया गया है। साथ ही तीनों बंगलों को कंटोनमेंट जोन बनाया गया है।

तोहफे में मिला था जलसा

अमिताभ बच्चन का बंगला जलसा जुहू में स्थित है जो लगभग 10,125 स्क्वायर फुट में बनाया गया है। ये आलीशान बंगला अमिताभ को 1982 में तोहफे में मिला था।अमिताभ बच्चन की फिल्म सत्ते पे सत्ता साल 1982 में रिलीज हुई थी। इस फिल्म की बेहतरीन कामयाबी के बाद फिल्म के डायरेक्टर रमेश सिप्पी ने उन्हें ये बंगला तोहफे में दिया था। कुछ सालों बाद बिग बी अपने परिवार के साथ यहां रहने पहुंचे थे। इसके अलावा बिग बी के दो बंगले प्रतीक्षा और जनक भी हैं।

झलक पाने को आते हैं लोग

हर शाम जलसा के बाहर बिग बी की एक झलक पाने के लिए कई लोग खड़े रहते हैं। हर रविवार बिग बी फैंस को अपनी झलक दिखाने बाहर भी आते हैं। हालांकि महामारी के चलते ये पूरी तरह से रुका हुआ है। सिक्योरिटी के चलते बंगले की दीवारें काफी ऊंची बनाई गई हैं। वहीं गेट लकड़ी का बनाया हुआ है।

सोशल मीडिया पर एक्टिव बिग बी

सोशल मीडिया पर एक्टिव बिग बी त्यौहार और कुछ गैदरिंग की तस्वीरें भी शेयर करते रहते हैं जिनमें उनका आलीशान लिविंग रूम और घर के अन्य हिस्से देखे जा सकते हैं। जलसा के गार्डन में दीवाली के मौके पर भी वो अपने परिवार के साथ यहीं फुलझड़ी जलाकर सेलिब्रेशन करते हैं।

यादों में अमिताभ का लिविंग रूम

बिग बी के घर के लिविंग रूम की एक दीवार उन्होंने अपनी यादों के नाम किया है जिसमें उनके पिता हरिवंश राय बच्चन और परिवार के अन्य सदस्यों की यादगार तस्वीरें सजी हैं। इसकी दूसरी तरफ वाली दीवार में एक शेल्फ में ज्ञान का खजाना यानि किताबें रखी गई हैं।

घर के इंटीरियर को कुछ एंटीक, बेशकीमती और लग्जरी चीजों से सजाया गया है। घर के कुछ हिस्सों में फुडन फ्लोरिंग भी देखने मिलती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

लेटेस्ट अपडेट

error: Content is protected !!