24 C
New Delhi
Thursday, February 22, 2024
-Advertisement-

आनंद महिंद्रा को किया ट्वीट तो वर्कशॉप वाले ने गाड़ी मालिक को बंधक बनाकर पीटा

गोरखपुरः महिंद्रा समूह के मालिक आनंद महिंद्रा से उनकी कंपनी के ऑथोराइज वर्कशॉप वाले की शिकायत करना एक एक गाड़ी मालिक को बहुत महंगा पड़ गया। शिकायत से नाराज महिंद्रा वर्कशॉप वाले ने अपने गुर्गों के साथ मिलकर गाड़ी मालिक की जमकर पिटाई कर दी है, जिससे उसकी हालत गंभीर बनी हुई है। मामला नौसढ़ स्थित महिंद्रा के वर्कशॉप सरदार मोटर्स (Sardar Motors Gorakhpur) से जुड़ा है।

दरअसल सीएम योगी के शहर गोरखपुर से ताल्लुक़ रखने वाले आशुतोष पाण्डेय की गाड़ी Mahindra KUV 100K2 का एक्सीडेंट मार्च महीने में हो गया था, जिसका क्लेम इंश्योरेंस कंपनी से किया था। मामले की पड़ताल करने के बाद इंश्योरेंस कंपनी क्लेम को लेकर तैयार हो गई, लेकिन मार्च में लॉकडाउन की वजह से काम आगे नहीं बढ़ पाया।

लॉकडाउन के बाद जुलाई में आशुतोष गोरखपुर स्थित महिंद्रा वर्कशॉप सरदार मोटर्स (Sardar Motors Gorakhpur) गए, लेकिन सरदार मोटर्स (Sardar Motors Gorakhpur) के कर्मचारियों ने कार को ठीक करने से मना कर दिया। मना करने के बाद उन्होंने वर्कशॉप के पदाधिकारियों से इसकी शिकायत की, लेकिन शिकायत पर कार्वाई करने बजाय पदाधिकारी उल्टे आशुतोष पर ही भड़क गए और गलत व्यवहार पर आमादा हो गए।

हार थक कर आशुतोष पाण्डेय ने महिंद्रा समूह के मालिक आनंद महिंद्रा को ट्वीट किया और सरदार मोटर्स के कर्मचारियों के बुरे बर्ताव की शिकायत की। शिकायत किए जाने के बाद महिंद्रा लखनऊ ब्रांच के अधिकारियों ने मामले को गंभीरता से लिया और गोरखपुर स्थित सरदार मोटर को हिदायत दी कि वे जल्दी से मामले का निपटारा करें।

कंपनी की हिदायत के बाद तारिख 23 जुलाई को सरदार मोटर की तरफ से आशुतोष पाण्डेय को ख़बर दी गई की वे वर्कशॉप पर चले आएं। बुलावे के बाद आशुतोष वर्कशॉप पहुंचे जहां उनके साथ मारपीट की गई।

बकौल आशुतोष शिकायत से खार खाए सरदार मोटर्स के जीएम प्रवीण राय ने आशुतोष को धमकाते हुए कहा कि तुमने शिकायत कि है अब मैं तुम्हे दिखाता हूं। जिसके बाद वहां के कर्मचारियों ने जीएम प्रवीण राय के साथ मिलकर आशुतोष पांडे की पिटाई शुरू कर दी।

आशुतोष की माने तो इस बीच वो बार-बार कहते रहे कि क्या आनंद महिंद्रा जी से आपके सर्विस सेंटर की शिकायत करने की वजह से आप लोग मुझे मार रहे हो ? अगर आप लोग ऐसा करोगे तो मैं दोबारा आप लोगों की कंप्लेन करूंगा। ये बात सुनते ही प्रवीण राय (Praveen Rai,GM, Sardar Motors, Gorakhpur) भड़क गए कहा कि हम ही यहां के कोतवाल हैं और पुलिस कुछ नहीं कर पाएगी।

किसी तरह से आशुतोष अपनी जान बचानते हुए वहां से भाग निकले, लेकिन उसके साथ गए उसके भाई आशीष को वहां पर करीब एक घंटे तक बंधक बना लिया गया। बाद में पुलिस PCR के आने के बाद आशीष को छोड़ा गया। फिलहाल पुलिस को इस मामले में एक तहरीर दी गई है।

यह है पूरा मामला

  • मार्च में आशुतोष पाण्डेय की गाड़ी का एक्सीडेंट हो गया था ।
  • Insurence कंपनी से क्लेम किया गया, जिसमें कंपनी क्लेम को लेकर तैयार हो गई।
  • लेकिन मार्च में लॉकडाउन की वजह से काम आगे नहीं बढ़ा।
  • जुलाई में आशुतोष वर्कशॉप गए, लेकिन वहां कर्मचारी कार को ठीक करने के लिए तैयार नहीं हुए
  • कर्मचारियों के खराब बर्ताव के कारण आशुतोष ने आनंद महिंद्रा को ट्वीट करके शिकायत की
  • लखनऊ स्थित महिंद्रा कार्यालय के अधिकारियों ने सरदार मोटर से इस मामले को जल्दी निपटाने को कहा
  • 23 जुलाई को आशुतोष पाण्डेय को वर्कशॉप पर बुलाया गया और उनके साथ मारपीट की गई।
News Stump
News Stumphttps://www.newsstump.com
With the system... Against the system