24 C
New Delhi
Thursday, February 22, 2024
-Advertisement-

शराब माफियाओं से गठजोड़ रखना दारोगा को पड़ा महंगा, चढ़ा DG सेल के हत्थे

रोहतासः शराब पर शख्त DG सेल बिहार ने पुलिस संरक्षण में चल रहे शराब कारोबार पर फिर से एक बड़ी कार्रवाई की है। DG सेल ने शुक्रवार की सुबह जिले के नोखा थाना में पदस्थापित एक दारोगा को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार दारोगा का नाम प्रमोद कुमार यादव बताया जा रहा है। उस पर शराब माफियाओं के साथ गठजोड़ का आरोप है।

Read also: DGP गुप्तेश्वर पाण्डेय ने VIP ढाबे में छापेमारी कर पकड़ी शराब, थाना छोड़ भागे थानेदार

इधर सूत्रों के हवाले से मिल रही जानकारी के मुताबिक किसी ने DG सेल बिहार को यह सूचना दी थी कि प्रमोद कुमार नाम का उक्त दारोगा का शराब माफियाओं से गठजोड़ है। उसके संरक्षण में थाना क्षेत्र में धड़ल्ले से शराब का कारोबार चल रहा है। वह नोखा के एक विवादित राइस मिल में रहते हैं और वहीं से शराब की पूरी डीलिंग करते हैं। यहां तक कि राइस मिल से ही शराब की लोडिंग-अनलोडिंग भी होती है। सूचना पर DG सेल ने कार्रवाई करते हुए दारोगा के निजी आवास की भी जांच की, जहां से उसे कई संदिग्ध वस्तुएं तथा लेनदेन के कागजात मिले हैं। गिरफ्तार दारोगा को फिलहाल पुछताछ के लिए किसी दूसरे थाने में रखा गया है।

Read also: रोहतास के नोखा प्रखंड में 15 दिनों में 20 सुअरों की मौत, इलाके में हड़कंप

बताते चलें कि गिरफ्तार दारोगा प्रमोद यादव द्वारा DSP स्तर के एक अधिकारी के आदेश की अवहेलना किया जाना बेहद शुर्खिंयों में रहा था। आरोपी दारोगा प्रमोद यादव इससे पहले तिलौथू थाना में थानेदार के पद पर पदस्थ था। इस दौरान उस पर कई लोगों ने शराब के झूठे मुकदमों में फंसाए जाने का आरोप भी लगाया था, जिसके बाद SP ने कार्रवाई करते हुए उसे तिलौथु थानाध्यक्ष पद से हटाकर नोखा थाना में JSI बना दिया था।

Read also: खाकी तुझे सलामः थानेदार ने कंधे पर उठाई 12 साल के बच्चे की लाश