32.1 C
New Delhi
Saturday, July 24, 2021

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मंडाविया ने किया सर तख्तसिंहजी अस्पताल में पीएसए संयंत्रों का उद्घाटन

भावनगरः केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण और रसायन एवं उर्वरक मंत्री मनसुख मंडाविया ने सोमवार को सर तख्तसिंहजी अस्पताल भावनगर में दो पीएसए संयंत्रों का वर्चुअल रूप से उद्घाटन किया। 1000-1000 एलपीएम क्षमता के इन दो ऑक्सीजन उत्पादन संयंत्रों के साथ-साथ कॉपर पाइपिंग नेटवर्क, अग्निशमन प्रणाली और स्वचालित ऑक्सीजन स्रोत परिवर्तन प्रणाली जैसी सहायक सुविधाओं का भी उद्घाटन किया गया।

इस अवसर पर मनसुख मंडाविया ने कहा कि यह सुविधा भावनगर के लोगों को समर्पित है। अभी हाल में अन्य जगहों पर भी इसी तरह की सुविधाओं का उद्घाटन किया गया है, जिन से देश को संकट की इस घड़ी में मदद मिलेगी।  मनसुख मंडाविया ने कहा कि लोगों को कोविड से सुरक्षित रखने के लिए “समग्र समाज” दृष्टिकोण के माध्यम से देश ‘लोक-भागीदारी’ की भावना से काम कर रहा है। उन्हों ने कहा कि कोविड की पहली लहर को परास्त करने के लिए लॉकडाउन के दौरान कोविड अनुकूल व्यवहार और सुरक्षित दूरी मानदंडों को बनाए रखने में जनता ने काफी सहयोग किया।

Advertisement

उन्होंने कहाकि यह सार्वजनिक और निजी दोनों क्षेत्रों के विभिन्न हितधारकों के मध्यउअच्छेा सहयोग का ही प्रमाण है कि हमने अपनी ऑक्सीजन क्षमता को कम समय में ही 4000 मीट्रिक टन से बढ़ाकर 12,000 मीट्रिक टन से अधिक कर दिया है।

Advertisement

मंडाविया ने देश के सामने कोविड-19 की लगातार चुनौतियों का उल्लेख करते हुए कहा कि हमने कोविड की दूसरी लहर के दौरान ऑक्सीजन की आपूर्ति, अस्पताल के बिस्तर और दवाओं आदि के बारे में बहुत कुछ सीखा है। अब हमने आपात स्थिति में हर जिले में अति आवश्यक चिकित्सा उपकरणों को खरीदने के लिए पर्याप्त धन सुनिश्चित किया है। कैबिनेट ने हाल ही में कोविड-19 आपातकालीन जरूरत के लिए 23,000 करोड़ रुपये के पैकेज की मंजूरी दी है। बच्चों के प्रभावी देखभाल के लिए सभी अस्पतालों में पर्याप्त प्रावधान किए हैं।

उन्होने कहा कि हमने राज्य और केंद्र स्तर पर बफर स्टॉक की एक प्रणाली भी विकसित की है, जिसका किसी भी संकट की स्थिति में उपयोग किया जा सकता है। इस प्रकार, इस कोविडपैकेज के माध्यम से अगले 6 महीनों में एक व्यापक योजना और क्षमता निर्माण किया जाएगा। दीनदयाल पोर्ट ट्रस्ट ने अपने कॉर्पोरेट सामाजिक उत्तरदायित्व के माध्यम से 2.53 करोड़ की लागत से सरकार द्वारा संचालित सर तख्तसिंहजी अस्पताल, भावनगर में दो मेडिकल ऑक्सीजन पीएसए इकाइयां स्थापित की हैं। स्थापित की गई इन दो पीएसए ऑक्सीजन उत्पामदन इकाइयों की क्षमता 1000-1000 एलपीएम है,यानी 5-6 बार प्रेशर पर 60,000 लीटर प्रति घंटे और कुल 1,20,000 लीटर प्रति घंटे है, जिसका कोविड के इलाज के साथ-साथ इस इलाके में सभी रोगियों के उपचार में उपयोग किया जा सकता है। इस प्रणाली से रोगियों के उपचार के लिए बार-बार सिलेंडर भरने की कठिनाई भी समाप्त  होगी और इससे अस्पताल में ऑक्सीजन की सुचारू और निरंतर आपूर्ति सुनिश्चित होगी।

पीएसए ऑक्सीजन उत्पाोदन इकाई प्रेशराइज्ड और डी-प्रेशराइज्ड अवस्था में आयातित मॉलिक्यूलर ऑक्सीजन सिव्‍जके माध्यइम से प्रेशर स्विंग ऐड्सॉर्प्शन और डिसोर्प्शन विधियों की निरंतर प्रक्रिया द्वारा शुद्ध ऑक्सीजन गैस उत्पन्न करती है और अंतिम रूप से न्यूनतम 93 प्रतिशत शुद्धता की ऑक्सीजन उपलब्ध  कराती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

लेटेस्ट अपडेट

error: Content is protected !!