32.1 C
New Delhi
Saturday, July 24, 2021

कांग्रेस नेता के बयान से उत्तराखंड में सियासी तूफान, CM पद से हटेंगे तीरथ सिंह रावत

देहरादून: उत्तराखंड के सीएम तीरथ सिंह रावत को बदले जाने की खबरों से प्रदेश की राजनीति काफी गरमा गई है। राजनीति में यह गर्माहट कांग्रेस नेता नवप्रभात के एक बयान से उत्पन्न हुई है। नवप्रभात का कहना है कि तीरथ संवैधानिक रूप से सीएम पद पर रहने के योग्य नहीं हैं। इसीलिए उत्तराखंड में फिर से सीएम बदलना पड़ सकता है।

9 सितंबर के बाद तीरथ को विधायक का चुनाव जीतना जरूरी

हरीश रावत सरकार में परिवहन मंत्री रह चुके नवप्रभात का कहना है कि तीरथ फिलहाल कहीं से भी विधायक नहीं हैं। सीएम पद पर बने रहने के लिए उन्हें चुनाव जीतकर 6 महीने के भीतर विधायक बनना होगा, लेकिन फिलहाल उप चुनाव भी नहीं कराए जा सकते। 9 सितंबर के बाद तीरथ को विधायक का चुनाव जीतना जरूरी होगा।

Advertisement

विधानसभा चुनाव में एक वर्ष से भी कम समय शेष

विधानसभा चुनाव में एक वर्ष से भी कम समय बचा है। ऐसे में जनप्रतिनिधि एक्ट के सेक्शन 151A के तहत फिलहाल उप चुनाव भी नहीं कराए जा सकते हैं। इसीलिए सीएम की कुर्सी पर संकट के बादल छाये हुए हैं। विधायकों की मौत के बाद फिलहाल गंगोत्री और हल्द्वानी में सीटें खाली जरूर हैं लेकिन चुनाव होने में सिर्फ 9 महीने ही बचे हैं।

Advertisement

मार्च 2021 में तीरथ सिंह रावत ने संभाला सीएम का पद

बता दें तीरथ सिंह रावत ने इसी वर्ष मार्च महीने में सीएम का पद संभाला है। उनसे पहले त्रिवेंद्र सिंह रावत सीएम थे। अब तीरथ की कुर्सी पर भी संकट के बादल नजर आ रहे हैं।

कांग्रेस के पास जानकारी की कमी- सुबोध उनियाल

कांग्रेस नेता के इस बयान पर कृषि मंत्री सुबोध उनियाल ने प्रतिक्रिया दी है। उनियाल ने कहा कि कांग्रेस लोगों को गुमराह कर रही है। उनके पास जानकारी की कमी है।

Read also: सचिन पायलट के साथ खड़े हुए कांग्रेस के मीणा विधायक, निशाने पर गहलोत गुट

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

लेटेस्ट अपडेट

error: Content is protected !!