29 C
New Delhi
Thursday, May 6, 2021

अयोध्या में रामजन्मभूमि तीर्थ ट्रस्ट की बैठक, शिलान्यास तिथि का फैसला करेगा पीएमओ

अयोध्या: अयोध्या में राम मंदिर निर्माण को लेकर रामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट की शनिवार को बैठक हुई। बैठक में शिलान्यास की तारीख पर चर्चा की गयी। प्रधानमंत्री कार्यालय (PMO) को ट्र्स्ट की तरफ से 3 अगस्त और 5 अगस्त की तारीख भेजी गई है। शिलान्यास की तारीख पर आखिरी फैसला प्रधानमंत्री कार्यालय करेगा।

इसके अलावा बैठक में मंदिर की ऊंचाई और निर्माण की व्यवस्थाओं पर भी चर्चा हुई. ये बैठक अयोध्या सर्किट हाउस में दोपहर तीन बजे शुरू हुई. करीब ढाई घंटे तक ट्रस्ट की बैठक चली.

मंदिर के नक्शे में बदलाव

ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय ने कहा कि स्थिति सामान्य हो जाने के बाद फंड एकत्र किया जाएगा। हमें लगता है कि 3-3.5 वर्षों के अंदर मंदिर का निर्माण पूरा हो जाएगा। मंदिर के नक्शे में भी बदलाव किया जाएगा। राम मंदिर में 3 की जगह 5 गुम्बद होंगे। मंदिर की ऊंचाई भी प्रस्तावित नक्शे से अब ज्यादा होगी।

बैठक में मंदिर निर्माण समिति के चेयरमैन नृपेंद्र मिश्रा भी शामिल रहे। मिश्रा के साथ बड़े इंजीनियरों का एक दल अयोध्या में है। यह मंदिर निर्माण की बारीकियों को देखेगा। राम मंदिर का मॉडल तैयार करने वाले चंद्रकांत सोमपुरा के अलावा उनके बेटे निखिल सोमपुरा भी अयोध्या में हैं।

प्रधानमंत्री से आग्रह

हालांकि, अभी तक पीएमओ की तरफ से औपचारिक या अनौपचारिक तौर पर पीएम मोदी के अयोध्या आने को लेकर कोई बात सामने नहीं आई है। मगर ट्रस्ट के सदस्य और अयोध्या के संत लगातार पीएम मोदी से अयोध्या आने को लेकर आग्रह कर रहे हैं।

सीएम योगी ने लिया जायजा

एक दिन पहले ही उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अयोध्या धाम के विकास के लिए कराए जाने वाले कार्यों का जायजा लिया। इस दौरान सीएम ने कहा कि अयोध्या नगरी ने आने वालों को कोई दिक्कत नहीं होनी चाहिए।

सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि अयोध्या नगरी के विकास के सभी काम योजना बनाकर चरणबद्ध तरीके से किए जाएं। यातायात की व्यवस्था सुगम हो, इसके लिए सड़कों का चौड़ीकरण कराया जाए।

दीपक सेन
दीपक सेन
मुख्य संपादक

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

लेटेस्ट अपडेट

error: Content is protected !!