24.1 C
New Delhi
Thursday, February 29, 2024
-Advertisement-

सीवानः ड्यूटी करने थाना जा रहे चौकीदार की रास्ते में चाकू गोदकर हत्या

सीवानः बेख़ौफ बदमाशों ने एक बड़ी वारदात को अंजाम दिया है। बदमाशों ने रविवार की दोपहर ड्यूटी पर जा रहे  एक चौकीदार की रास्ते में चाकू गोदकर हत्या कर दी है। अपराधियों ने हत्या की इस वारदात को सिसवन थाना क्षेत्र अंतर्गत SH-89 पर अंजाम दिया गया है। चौकीदार थाना क्षेत्र के उबधी निवासी दफदार हरिहर भगत का पुत्र संतोष भगत है और वह सिसवन थाना के लिए काम करता था।

परिजनों से मिली जानकारी के मुताबिक चौकीदार संतोष भगत दोपहर 11 बजे घर से थाना के लिए निकला था। रविवार होने के कारण उसे थाने पर ही हाजिरी लगानी थी। जैसे ही वह प्रखंड मुख्यालय व चान्दपुर गांव के बीच मुख्य मार्ग पर बने पुल के पास पहुंचा, घात लगाए अपराधियों ने उसे बीच रास्ते में रोक लिया और उसकी हत्या कर दी।

परिजनों का कहना है कि चौकीदार की लाश को सबसे पहले सड़क किनारे पेड़ लगा रहे कुछ मजदूरों ने देखा। लाश देखकर वे डर गए और भागकर चान्दपुर गांव पहुंचे, जहां स्थानीय लोगों को इस बारे में बताया। स्थानीय लोगों ने इसकी सूचना थाना को दी। घटना की जानकारी मिलने के बाद मौके पर पहुंचकर पुलिस ने शव को कब्जे में ले लिया और पोस्टमार्टम के लिए सीवान भेज दिया।

हत्या की इस घटना के बाबत थानाध्यक्ष अरविंद कुमार ने बताया कि चौकीदार की हत्या चाकू से गोदकर की गई है। उसके सिर के पिछले हिस्से में चाकू के कई जख्म है। फिलहाल अज्ञात अपराधियों के खिलाफ मामला दर्ज किया जा चुका है और हत्या के कारणों सहित संलिप्त अपराधियों का पता लगाने की कोशिश की जा रही है।

उन्हों ने बता कि चौकीदार संतोष भगत रविवार को घर से थाने पर आने के लिए निकला था, तभी अज्ञात अपराधियों ने उसकी हत्या कर दी। जिस जगह पर उसकी हत्या हुई है उसकी बाइक वहीं मुख्य सड़क पर ही खड़ी थी, जिसमें चाभी भी लगा था। घटना की जानकारी मिलते ही चैनपुर ओपी प्रभारी राकेश कुमार, रघुनाथपुर प्रभारी एमके प्रभाकर व हसनपुरा प्रभारी घटनास्थल पर पहुंचे। सीओ इन्द्रवंश राय ने भी घटना स्थल पर पहुंच स्थिति की जाएजा लिया।

बता दें सीवान में चौकीदार पर चाकू से हमला करने का यह दूसरा मामला है। इससे पहले 3 मार्च को भी अपराधियों ने एक चौकिदार को चाकू मारकर बुरी तरह जख्मी कर दिया था। चौकीदार का नाम अमरजीत था जो मुफ्फसील थाना अंतर्गत नउआपली गांव का चौकीदार है। अमरजीत पर हुए हमले में कुछ शराब कारोबारियों की संलिप्तता उजागर हुई थी।

Read also: सारण पुलिस को बड़ी कामयाबी, चोरी की 11 बाइक के साथ 11 बदमाश गिरफ्तार

Read also: ख़बर का असरः गरीबी ने ले ली जान, परिजनों की सहायता के लिए आगे आया समाज