24 C
New Delhi
Thursday, February 22, 2024
-Advertisement-

नहीं रहे केंद्रीय मंत्री और दलितों के नेता रामविलास पासवान

पटना : दलित मामलों को मुखरता से उठाने वाले लोजपा सुप्रीमो के पिता और केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान का लंबी बीमारी के बाद गुरुवार की शाम साढ़े 6 बजे निधन हो गया। वे 74 वर्ष के थे। उनके बेटे चिराग पासवान ने इस बात की पुष्टि की है। उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा है, “पापा….अब आप इस दुनिया में नहीं हैं लेकिन मुझे पता है आप जहां भी हैं हमेशा मेरे साथ हैंं Miss you Papa…” अपने ट्वीट में चिराग पासवान ने अपने पिता की एक तस्वीर भी शेयर की है जिसमें चिराग रामविलास की गोद में नजर आ रहे हैं।

दिल का हुआ ​हुआ था ऑपरेशन

रामविलास पासवान का दिल्ली के एक अस्पताल में इलाज चल रहा था। अभी कुछ दिनों पहले ही उनके दिल का एक ऑपरेशन भी हुआ था। यह बात भी चिराग पासवान ने ही ट्वीट कर शेयर की थी। चिराग पासवान ने अपने उस ट्वीट में इस बात का भी जिक्र किया था कि ज़रूरत पड़ने पर संभवतः कुछ हफ्तों बाद एक और ऑपरेशन करना पड़े। संकट की इस घड़ी में मेरे और मेरे परिवार के साथ खड़े होने के लिए आप सभी का धन्यवाद।

शोक संदेशों का तांता

उनके निधन की खबर पहुंचते ही शोक संदेशों का तांता लग गया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह, मुख्यमंत्री नीतीश कुमार समेत उनके विशाल समर्थ परिवार ने शोक जाहिर करते हुए उनके परिवार को ढाढस बंधाया है।

अजय वर्मा
अजय वर्मा
समाचार संपादक