10.1 C
New Delhi
Friday, February 23, 2024
-Advertisement-

नए अवतार में कोरोना योद्धा- किसी ने बनाया सैनेटाइजर, तो किसी ने सोशल डिस्टेंसिंग घड़ी

नई दिल्लीः कोरोना के जानलेवा कहर के बीच आशा की किरणें भी फूट रही हैं। कहीं कोई अपनी पहल पर रोजगार से वंचित लोगों को खना खिला रहा है, तो कहीं उत्साही युवा खुद के दम पर अपने इलाके को सुरक्षित करने के लिए आगे आकर पहल कर रहे हैं। ऐसे कोरोना योद्धाओं की सूची लंबी है, लेकिन सांकेतिक रूप में यहां दो उदाहरणों का जिक्र करना समीचीन होगा। एक बिहार से है तो दूसरा यूपी से।

खुद से सैनेटाइजर बनाकर लगभग 4 हजार ​घरों को किया सैनेटाइज

बेतिया के कुछ युवाओं ने मिलकर पूर्वी करगहिया व इसके आसपास के इलाके में खुद सैनेटाइजर बनाकर मकान, खेल मैदान, दुकान, नालियों, गलियों आदि को सैनेटाइज किया है। अमित मिश्रा, प्रकाश कुमार, प्रीतम सिंह, जितेंद्र कुमार आदि युवकों ने अब तक करगहिया, जयप्रकाश नगर, बनवा टोला के ​करीब चार हजार मकानों को सैनेटाइज किया है। इस काम में उन्हें करीब 14 दिन लग गये। स्थानीय हेल्थ अधिकारियों के परामर्श से इन युवकों ने स्प्रिट, फिटकिरी, ग्लिसरिन, डिटॉल के सहयोग से सैनेटाइजर बनाया ताकि बाजार से खरीदने के भारी—भरकम खर्च से बचा जा सके।

अलार्म बजाकर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराएगी यह घड़ी

कोरोना के संक्रमण से बचने और बीमारी को निर्मूल करने के मकसद से देश-दुनिया के वैज्ञानिक अपने प्रयास में लगे हैं, लेकिन प्रारंभिक एहतियात के तौर पर सैनेटाइजेशन और डिस्टेंसिंग को सफल करने के लिए भी छोटे स्तरों पर प्रयास जारी है। इस क्रम में IIT कानपुर के इंजीनियर आशीष शर्मा ने हाथ की घड़ी की तरह पहनने लायक एक यंत्र विकसित किया है। यह यंत्र न केवल सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करवायेगी बल्कि दूसरे के करीब आने पर अलार्म बजाकर सतर्क भी करेगी। महज तीन सौ रुपये लागत के इस यंत्र का नाम WS DAD रखा गया है। WSDAD का मतलब हुआ WEARING SOCIAL DISTANCING ALARMING DEVICE।

डिवाइस की रेंज लगभग एक से डेढ़ मीटर

उनका कहना है कि इसका नाम DAD है। जैसे हमारे पिता जीवन भर हमें किसी भी तरह की परेशानी से बचने के लिए सतर्क करते हैं, उसी तरह ये डिवाइस भी हमें सचेत करेगी। इसमें एक ट्रांसमीटर, एक सेंडर और रिसीवर के तौर पर लगाए गए हैं। ये सेंसर अल्ट्रा सोनिक सेंसर को डिस्टेंस मापने के काम आ जाता है, जिसमें सेन्डर से निकलने वाली किरण किसी व्यक्ति से टकराने के बाद रिसीवर के द्वारा वापस आती है और तुरंत एलार्म बजने के बाद रेड लाइट जल जाती है। डिवाइस की रेंज लगभग एक से डेढ़ मीटर है। इसे राशन की दुकान, मेडिकल स्टोर, बैंक समेत अन्य जगहों पर लगाया जा सकता है।

अजय वर्मा
अजय वर्मा
समाचार संपादक