10.1 C
New Delhi
Friday, February 23, 2024
-Advertisement-

बिना मास्क सार्वजनिक वाहनों से सफर कर रहे लोग कोरोना को दे रहे बढ़ावा

रोहतासः सुरक्षा ही बचाव है, लेकिन बिहार में लगातार बढ़ रहे कोरोना मामलों के बीच राज्य स्तरीय छोटी दूरी की यात्री वाहनों पर लोग बिना माक्स लगाए बेपरवाह होकर सफर कर रहे हैं। लंबे समय तक लॉकडाउन के बाद अनलॉक 2 में लगतार सरकार द्वारा लोगो को जागरूक किया जा रहे है। फिर भी लोग बेवज़ह बिना मास्क लगाए घरों से बाहर निकल रहे हैं।

इस बात जब वाहन चालको और उसके कंडक्टरों से बात की गई तो वे बताते हैं कि सारे सवारियों को बस या ऑटो पर चढ़ने से पहले माक्स लगाने की चेतावनी दी जाती हैं। लेकिन लोग मानने को तैयार नहीं। कई बार तो लोग इतने भड़क जाते हैं कि मारपिट तक की भी नौबत आ जाती है। हमारे साथ मजबूरी है हम लोगों को समझाने से ज्यादा कुछ नहीं कर सकते।

हालांकि स्थानीय प्रशासन कोरोना को लेकर गंभीर है। पुलिस-प्रशासन की टीम सघन जांच और जागरूकता अभियान चला कर लोगों को मास्क पहननेस समाजीक दूरी बनाए रखने और बेवजह घर से ना निकले के लिए अपील कर रही है। कई जगह तो लोगों से जुर्माने भी वसुले गए ताकि लोग दोबार गलती ना करें।

इस बाबत नोखा कार्यपालक पदाधिकारी सुशील कुमार सिंह ने बताया कि अभी तक कोरोना की सटीक दवा नही आने के कारण मास्क और शारीरिक दूरी ही इससे बचने का एक मात्र उपाय है। लोगो को जागरूक करने के लिए लाउड स्पीकर व अन्य तरीकों से हर सम्भव प्रयास किया जा रहा है। अभी फिलहाल एक मामूली सा दंड लगा कर के लोगो को जागरूक किया जा रहा है और सख्त हिदायत भी दिया जा रही है, जिसमे की बेवजह घर से बाहर ना निकलना, बाहर जाते समय मास्क और उचित दूरी का ख्याल रखें।

बहरहाल कोरोना का संकट अभी पूरी तरह बरकरार है। सरकार के निर्देशों का पालन करते हुए लोगों को अपनी सुरक्षा स्वयं सुनिश्चित करनी होगी। लेकीन जिस तरह सड़को व बाजारों और सार्वजनिक वाहनों में बिना मास्क लगाए लोग घूम रहे हैं, ऐसे में संक्रमण का खतरा बहुत ज्यादा बढ़ गया है।