12 C
New Delhi
Saturday, November 28, 2020

कोरोना वायरस ला सकता है 13 करोड़ लोगों को भुखमरी की चपेट में !

न्यूयार्क/वाशिंगटन: संयुक्त राष्ट्र ने चेतावनी दी है कि कोरोना वायरस महामारी इस साल करीब 13 करोड़ और लोगों को भुखमरी में ला सकती है। विश्व में भुखमरी के कगार पर पहुंचे लोगों की संख्या पिछले साल करीब एक करोड़ बढ गयी थी।यह आंकलन विश्व में खाद्य सुरक्षा एवं पोषण की स्थिति के मद्देनजर हालिया रिपोर्ट में सामने आया है। इसे तैयार करने वाली यूएन की पांच एजेंसियों ने इस वार्षिक रिपोर्ट को सोमवार को जारी किया गया।

रिपोर्ट के मुताबिक, वर्तमान में उपलब्ध विश्व के आर्थिक परिदृश्य पर आधारित ये प्रारंभिक अनुमान बताते हैं कि महामारी के कारण वर्ष 2020 में कुपोषण की तालिका में 8.3 करोड़ से 13.2 करोड़ अतिरिक्त लोग जुड़ सकते हैं।”

Advertisement

यूएन एजेंसियों के अनुमान के मुताबिक, पिछले साल करीब 69 करोड़ लोग भुखमरी में रहे। यह पूरी दुनिया की आबादी का करीब नौ प्रतिशत है। वर्ष 2018 से इस संख्या में करीब एक करोड़ और वर्ष 2014 से करीब छह करोड़ की वृद्धि दर्ज की गई।

Advertisement

रिपोर्ट के मुताबिक, दशकों तक लगातार गिरावट के बाद वर्ष 2014 से भुखमरी के आकंड़ों में धीरे-धीरे बढ़ोत्तरी होनी शुरू हुई जोकि अब तक जारी है।”

विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के प्रमुख टेड्रोस एडहेनम गेब्रेयेसस ने आगाह किया है कि वैश्विक स्तर पर कोविड-19 महामारी की स्थिति खराब हो रही है और कुछ समय तक चीजें पहले की तरह सामान्य नहीं हो पाएगी।

गेब्रेयेसस ने संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘निकट भविष्य में पहले की तरह चीजें सामान्य नहीं हो पाएगी।’ डब्ल्यूएचओ के प्रमुख ने कहा कि खासकर यूरोप और एशिया के कई देशों में महामारी पर काबू पाया गया है। मगर कुछ अन्य देशों में संक्रमण का रूझान गलत दिशा में बढ़ रहा है।

गेब्रेयेसस ने कई देशों में संक्रमण के बढ़ते मामलों पर रोक लगाने के लिए देशों से समग्र रणनीति लागू करने का आह्वान किया। और कहा कि संक्रमण के नए मामलों में से तकरीबन आधे अमेरिका से आ रहे हैं।

डब्ल्यूएचओ प्रमुख ने कहा कि महामारी की चपेट से निकलने के लिए एक खाका था। कोरोना संक्रमण के ज्यादा मामले वाले क्षेत्रों में भी इसे लागू करने में अभी भी देर नहीं हुई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

लेटेस्ट अपडेट

error: Content is protected !!