14 C
New Delhi
Friday, February 23, 2024
-Advertisement-

अगर आप मोटे हैं तो कोरोना वायरस से रहें सावधान, बढ़ सकती हैं मुश्किलें

नई दिल्लीः कोरोना को लेकर दूनिया भर में लगातार रिसर्च चल रहा है। रिसर्च में हर रोज कोई ना कोई नई बात सामने आ रही हैं। अब एक नई बात सामने आई है कि कोरोना वायरस मोटे लोगों के लिए ज्यादा खतरनाक है। शोधकर्ताओं के एक समूह ने मोटापे से पीड़ित लोगों को 14 के बजाय 28  दिनों के लिए क्वारनटीन रहने की सलाह दी है। वैज्ञानिकों ने ऐसी राय इनफ्लूएंजा इंफेक्शन पर हुए एक शोध की तर्ज पर दी है। यह शोध इटली के वैज्ञानिकों ने किया है।

अभी तक कोरोना वायरस से बचने के लिए हेल्थ एक्सपर्ट लोगों को 14 दिन के लिए आइसोलेशन में रहने की सलाह दे रहे हैं, लेकिन इस शोध में पता चला है कि मोटापे से ग्रस्त लोगों के लिए आइसोलेशन की यह अवधी नाकाफी है। सामान्य लोगों की अपेक्ष मोटे लोगों को  ज्यादा दिन तक ऐइसोलेशन में रहना पड़ सकता है।

शोधकर्ताओं के मुताबिक मोटे लोग COVID-19 जैसे संक्रामक रोगों के लिए ज्यादा संवेदनशील होते हैं। उनके लिए वायरस का खतरा ज्यादा समय तक बना रह सकता है। इटली में हुए इस शोध को नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ हेल्थ के ‘नेचर पब्लिक हेल्थ इमरजेंसी कलेक्शन’ में प्रकाशित की गई है।

वैज्ञानिकों का मानना है कि कोविड-19 और मोटापे के बीच इंटरेक्शन इस बात पर निर्भर करता है कि इंफ्लूएंजा जैसा वायरस मोटे लोगों पर कैसा असर डाल रहा है। इंफ्लूएंजा वायरस दुबले लोगों की तुलना में मोटे लोगों के लिए ज्यादा खतरनाक होता है और जोखिम ज्यादा समय तक बरकरार रहते है। ऐसे में सावधान हो जाने की जरूरत है क्योंकि एकबार इंफेक्टेड हो जाने के बाद मोटे लोगों को ज्यादा दिन के लिए मॉनिटर किया जाना जरूरी माना गया है।

News Stump
News Stumphttps://www.newsstump.com
With the system... Against the system