24 C
New Delhi
Thursday, February 22, 2024
-Advertisement-

पहले मुकाबले में विपक्ष चित, स्पीकर का पद मिली भाजपा को

पटना: हार गया महागठबंधन और पहली बाजी एनडीए ने जीत ली। मामला स्पीकर चुनाव का था और एनडीए के विजय कुमार सिन्हा ने बाजी मार ली। तेजस्वी की सारी कोशिशें धरी रह गई। लालू के प्रलोभनों का भी असर नहीं हुआ।

एनडीए को मिले 126 वोट

स्पीकार चुनाव में एनडीए को 126 वोट मिले जबकि महागठबंधन के अवध बिहारी चौधरी को 114। जबकि ओवैसी के पांच विधायकों का भी समर्थन मिला था। हां, तेजस्वी यादव विपक्ष को एकजुट करने में सफल रहे हैं। बिहार में ऐसा पांच दशक के बाद हुआ है, जब स्पीकर पद के लिए चुनाव हुआ हो।

गणित ऐसा रहा

एनडीए को 126 विधायकों के समर्थन पहले से ही हासिल था, जिनमें भाजपा के 74, जदयू के 43, हिंदुस्तान आवाम मोर्चा के 4, वीआईपी के चार और एक निर्दलीय विधायक शामिल हैं। माना जा रहा है कि एनडीए के इन्हीं 126 विधायकों का वोट स्पीकर विजय कुमार सिन्हा को मिला है। महागठबंधन के 110 के विधायक हैं लेकिन अनंत सिंह और अमरजीत कुशवाहा विधानसभा सदस्य की शपथ ही नहीं ले सके थे। ऐसे में महागठबंधन के 108 विधायक के अलावा 5 AIMIM विधायकों और एक बसपा विधायक का वोट मिला।

अजय वर्मा
अजय वर्मा
समाचार संपादक