24 C
New Delhi
Sunday, February 25, 2024
-Advertisement-

मातृभाषा में महारत हासिल करना बेहद जरूरी— उपराष्ट्रपति

नई दिल्ली: उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू ने शुक्रवार को अपनी मातृभाषा में महारत हासिल करने के गुणों पर प्रकाश डाला और लोगों से सांस्कृतिक विविधताओं और मूल्यों की अपनी समझ को व्यापक बनाने के लिए अन्य भाषाओं को सीखने का आग्रह किया।
उन्होंने यह भी कहा कि अन्य भाषाओं को सीखना मानव जाति के बीच व्यापक संबंधों को मजबूती देने के साथ ही विभिन्न प्रकार के अवसरों को बढ़ाता है।
सेन फ्रांसिस्को में आयोजित किए जा रहे ”विश्व तेलुगू सांस्कृतिक उत्सव” को ऑनलाइन संबोधित करते हुए नायडू ने जोर दिया कि भाषा केवल अभिव्यक्ति का जरिया ही नहीं बल्कि इससे कहीं बढ़कर है।
एक आधिकारिक बयान के मुताबिक, उप राष्ट्रपति ने कहा कि हर भाषा अन्य भाषाओं की एक विकासवादी प्रक्रिया का नतीजा है जोकि दूसरों से बातचीत की लंबी अवधि के दौरान निकलकर आता है।
उन्होंने लोगों से विविध संस्कृतियों की व्यापक समझ के लिए अधिक से अधिक भाषाएं सीखने का भी आग्रह किया।
नायडू ने लोगों से हमेशा मां, मातृभूमि, मातृभाषा और गुरु का सम्मान करने का भी आग्रह किया।