28.1 C
New Delhi
Friday, September 24, 2021

हड़ताल पर सफाई कर्मी, कचड़े से भर गईं शहर की गलियां, गंध से घर में रहना भी मुहाल

पटनाः पटना नगर निगम सहित राज्य के अन्य नगर निकायों में तैनात सफाई कर्मियों की हड़ताल तीसरे दिन भी जारी है। अपनी 12 सूत्री मांगों पर अड़े सफाईकर्मियों ने गुरुवार को पटनासिटी के चौक शिकारपुर स्थित निगम गेट के सामने जमकर प्रदर्शन किया और सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। सफाईकर्मियों का कहना है कि सरकार जब तक उनकी मांगों को पूरा नहीं करती वे काम पर नहीं लौटेंगे।

Advertisement

सफाई कर्मियों का कहना है कि कोरोना काल मे जब सभी लोग अपने घरों में बैठे थे, तब सफाईकर्मी सड़कों पर उतर कर साफ-सफाई कर रहे थे। सफाईकर्मियों की मानें तो निगम प्रशासन उनके साथ सौतेला व्यवहार कर रहा है। सफाई कर्मियों का कहना है कि सरकार 10 वर्षो की सेवा पूरी करने वाले मजदूरों को परमानेंट करे और दैनिक मजदूरों को नियमित करने के साथ साथ समान काम का सामान वेतन दे।

इधर हड़ताल के कारण पूरे शहर में कचरे का अंबार लग गया है। जगह-जगह लगे कचड़ों से अब बदबू भी आने लगी है, जिससे लोगो की परेशानी बढ़ गई है। लोगों का कहना है कि सरकार और सफाईकर्मियों के झगड़े की वजह से सड़क पर निकला तो छोड़िए घर में रहना भी मुश्किल हो रहा है।

बता दें,  बिहार लोकल बॉडीज कर्मचारी संयुक्त संघर्ष मोर्चा एवं बिहार राज्य स्थानीय निकाय कर्मचारी महासंघ के संयुक्त नेतृत्व में पटना नगर निगम सहित राज्य के सभी नगर निकाय के स्थाई, दैनिक, आउटसोर्स एवं संविदा कर्मी तीन दिनों से हड़ताल पर हैं। मोर्चा के अध्यक्ष चंद्र प्रकाश सिंह ने कहा था कि  कि उनकी मांग आश्वासन के बाद भी नहीं मानी जा रही है। अब आश्वासन पर काम नहीं चलने वाला है। उनका कहना है कि बिहार के सभी नगर निकायों में हड़ताल  अनिश्चितकालीन होगा, जब तक मांग नहीं मानी जाती है।

Advertisement

Advertisement

News Stumphttps://www.newsstump.com
With the system... Against the system

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

लेटेस्ट अपडेट

error: Content is protected !!