24.1 C
New Delhi
Thursday, February 29, 2024
-Advertisement-

Bihar Election: मुस्लिम, यादव नहीं सवर्ण हैं RJD की पसंद! 30 टिकट देकर रिझाने की तैयारी

पटनाः विधानसभा चुनाव से पहले टिकट बंटवारे को लेकर RJD में माथापच्ची शुरु हो गई है। टिकट बंटवारे में MY समीकरण यानी मुस्लिम-यादव फॉर्मुले के लिए विख्यात लालू प्रसाद यादव की पार्टी की नज़र इस बार सवर्णों को रिझाने पर है। पार्टी ने इस विधानसभा चुनाव में सवर्ण जाति से आने वाले कम से कम 30 उम्मीदवारों को टिकट देने का निर्णय लिया है।

एक सूत्र के मुताबिक राजद सांसद अमरेंद्रधारी सिंह ने दावा किया है कि इस बार के विधानसभा चुनाव में पार्टी हर जाति के उम्मीदवार को उचित प्रतिनिधित्व देते हुए टिकट देगी। उन्हों ने कहा कि टिकट पाने वालों में कम से कम ऐसे 30 उम्मीदवारों को शामिल किया जाएगा जो उच्च वर्ग यानी भूमिहार, राजपूत, ब्राह्मण और कायस्थ समाज से आते हैं। सांसद के मुताबिक इस विधानसभा चुनाव में अति पिछड़ों को भी अच्छी संख्या में टिकट देने की तैयारी की जा रही है। उन्हों ने कहा कि तेजस्वी यादव पहले ही बोल चुके हैं कि चुनाव में A to Z पर नजर रहेगी, ऐसे में इस बार के चुनाव का फार्मूला यही रहेगा।

उन्होंने नीतीश कुमार पर निशाना साधते हुए कहा कि वे केवल लोगों को जाति के आधार पर बेवकूफ बनाते हैं, लेकिन इस बार बिहार की जनता उन्हें पहचान चुकी है। एक साथ कई मुद्दों पर नीतिश सरकार को घेरते हुए सांसद ने कहा कि बिहार नरक बन चुका है, जहां स्वास्थ्य, कृषि क्षेत्र में हालत लगातार खराब हो रहे हैं। गंदगी के क्षेत्र में भी बिहार नंबर वन है। ऐसे में इस बार के विधानसभा चुनाव में बिहार में बदलाव निश्चित है।

गौरतलब है कि हाल ही में राजद कोटे से राज्यसभा पहुंचे अमरेंद्रधारी सिंह खुद भूमिहार वर्ग से आते हैं, ऐसा माना जा रहा है कि पार्टी ने उनको राज्यसभा भेजकर पहले ही भूमिहार वर्ग को साथ लेने की कोशिश की है। अब सांसद के इस दावे ने राजद के स्टैंड को काफी हद तक साफ कर दिया है।

अभय पाण्डेय
अभय पाण्डेय
आप एक युवा पत्रकार हैं। देश के कई प्रतिष्ठित समाचार चैनलों, अखबारों और पत्रिकाओं को बतौर संवाददाता अपनी सेवाएं दे चुके अभय ने वर्ष 2004 में PTN News के साथ अपने करियर की शुरुआत की थी। इनकी कई ख़बरों ने राष्ट्रीय स्तर पर सुर्खियां बटोरी हैं।