24 C
New Delhi
Thursday, February 22, 2024
-Advertisement-

बिहार पुलिस के लिए सिर दर्द बने कांग्रेस नेता सह क्रिकेटर नवजोत सिंह सिद्धू

पटनाः कहां हैं पंजाब सरकार के पूर्व मंत्री सह क्रिकेटर नवजोत सिंह सिद्धू (Navjot Singh Sidhu), जिनके तलाश में बिहार पुलिस इन दिनों पंजाब की गलियों में ख़ाक छान रही है ? जि हाँ, कटिहार से निकली पुलिस पलटन पिछले एक सप्ताह से पंजाब में सिद्धू की टोह लेने में जुटी हुई है और सिद्धू हैं कि हाथ ही नहीं आ रहे।

दरअसल कांग्रेस नेता सिद्धू नें 2019 के लोकसभा चुनाव में स्टार प्रचारक के तौर पर कटिहार जिले के बारसोई में एक चुनावी सभा को संबोधित किया था। अपने संबोधन में उन्हों ने कुछ ऐसी बातें कह दी थी, जिससे विवाद खड़ा हो गया और मामला फंस गया। अब उसी विवादित बयान को लेकर कटिहार पुलिस उनसे पूछताछ करना चाहती है और पिछले एक सप्ताह से अमृतसर में कैंप कर रही है। लेकिन पुलिस को सिद्धू का कोई अता-पता नहीं मिल रहा है।

बिहार पुलिस टीम बीते 18 जून से सिद्धू के अमृतसर में स्थित घर के बाहर उनका इंतजार कर रही थी, लेकिन वह नहीं मिले। उनकी ग़ैरमौजूदगी के बारे में कहा गया कि वे अभी अमृतसर से बाहर है, उनसे मिल पाना अभी संभव नहीं है। हार थक कर पुलिस ने अब उनके घर के गेट पर एक नोटिस चिपका दिया है. ताकि बेल बांड के पेपर पर उनके हस्तााक्षर पाए जा सकें। सूत्रों के हवाले से मिली जानकारी के मुताबिक सिद्धू की तरफ से अगर एक सप्ताह बाद भी सहयोग नहीं किया गया तो पुलिस सख्ती बरत सकती है।

बता दें नवजोत सिंह सिद्धू (Navjot Singh Sidhu) पर 2019 के लोकसभा चुनाव प्रचार के दौरान बारसोई में कांग्रेस प्रत्याशी तारिक अनवर के पक्ष में आयोजित चुनावी सभा को संबोधित किया था। क्षेत्र में अल्पसंख्यकों की संख्या अधिक होने का हवाला देते हुए उन्हों ने अल्पसंख्यक प्रत्याशी के पक्ष में मतदान करने की अपील की थी। वीडियो वायरल होने के बाद मामले ने तूल पकड़ लिया था। सभास्थल पर प्रतिनियुक्त दंडाधिकारी द्वारा बारसोई थाना में आचार संहिता उल्लंघन के मामले में प्राथमिकी दर्ज कराई गई थी।

जिला प्रशासन की रिपोर्ट के आधार पर चुनाव आयोग ने चार दिनों के लिए उनके चुनाव-प्रचार पर प्रतिबंध भी लगाया था। इधर मामले को तूल पकड़ने के बाद कांग्रेस प्रत्याशी ने भी सिद्धू (Navjot Singh Sidhu) के बयान से खुद को अलग करते हुए कहा था कि सिद्धू को ऐसा बयान नहीं देना चाहिए था।

दिसंबर में भी पुलिस इस सिलसिले में अमृतसर गई थी, लेकिन सिद्धू नहीं मिले थे। अब उसी मामले पर कोर्ट का आदेश लेकर कटिहार पुलिस एक बार फिर से अमृतसर गई है और सिद्धू के इंतजार में कैंप कर रही है। तहा जा रहा है कि सिद्धू के नहीं मिलने की स्थिति में पुलिस ने कुर्की-जब्ती वारंट के लिए न्यायालय का दरवाजा खटखटाने की तैयारी भी शुरू कर दी है।

अभय पाण्डेय
अभय पाण्डेय
आप एक युवा पत्रकार हैं। देश के कई प्रतिष्ठित समाचार चैनलों, अखबारों और पत्रिकाओं को बतौर संवाददाता अपनी सेवाएं दे चुके अभय ने वर्ष 2004 में PTN News के साथ अपने करियर की शुरुआत की थी। इनकी कई ख़बरों ने राष्ट्रीय स्तर पर सुर्खियां बटोरी हैं।