32.1 C
New Delhi
Saturday, July 24, 2021

NFAI के संग्रह का हिस्सा बनी निर्माता राजकुमार हिरानी की फिल्म PK

मुंबईः राष्ट्रीय फिल्म संग्रहालय (NFAI) ने अपने संग्रह में राजकुमार हिरानी की फिल्म ‘PK’ की मूल कैमरा नेगेटिव को शामिल करने की घोषणा की है। हिरानी ने 2014 में बनी अपनी फिल्म PK की मूल कैमरा निगेटिव को मंगलवार मुंबई में NFAI के निदेशक प्रकाश मगदुम को सौंप दिया। ‘PK’ की मूल कैमरा नेगेटिव के अलावा,  इस फिल्म के रश और ‘थ्री इडियट्स’ के आउटटेक वाले लगभग 300 डिब्बे भी संरक्षण के लिए सौंपे गए। हिरानी द्वारा निर्देशित फिल्मों के पोस्टर, लॉबी कार्ड और तस्वीरें भी NFAI को सौंपी जायेंगी।

भारत में सेल्यूलाइड पर शूट की जाने वाली आखिरी फिल्मों में से एक है PK

राजकुमार हिरानी द्वारा लिखित, संपादित और निर्देशित फिल्म PK भारतीय समाज पर एक अनूठा राजनीतिक व्यंग्य है। विधु विनोद चोपड़ा के साथ मिलकर हिरानी द्वारा बनाई गई PK भारत में सेल्यूलाइड पर शूट की जाने वाली आखिरी कुछ फिल्मों में से एक है। अंधविश्वास पर टिप्पणी करने वाली PK एक एलियन के विचित्र मजाकिया चरित्र के जरिए एक सनकी लेकिन प्यारे तरीके से दुनिया को समझने की कोशिश करती है।

Advertisement

इस अवसर पर राजकुमार हिरानी ने कहा, “इस निगेटिव को संरक्षित करना महत्वपूर्ण था और मुझे बहुत खुशी है कि इसे पुणे स्थित NFAI में संरक्षित किया जाएगा। यह सुनिश्चित करना फिल्म निर्देशकों का कर्तव्य है कि फिल्मों को संरक्षित किया जाए और मैं सभी फिल्म निर्देशकों से इस महत्वपूर्ण कार्य में NFAI के साथ सहयोग करने का आग्रह करता हूं।”

Advertisement

NFAI के निदेशक, प्रकाश मगदुम ने कहा, “हमें श्री हिरानी की पहले की लोकप्रिय फिल्मों को भी NFAI में संरक्षित किया जा रहा है और हम अपने रिश्ते को जारी रखते हुए खुश हैं। हमारे संग्रह में PK को शामिल करना खासकर इसलिए अनूठा है, क्योंकि इसे सेल्यूलाइड पर शूट किया गया था।”

NFAI संग्रह में PK को शामिल करना खुशी की बात- प्रकाश मगदुम

प्रकाश मगदुम ने आगे कहा, “हमारे संग्रह में PK को शामिल करना खुशी की बात है, क्योंकि इसे सेल्युलाइड पर फिल्माया गया था। 2013-14 के दौरान, फिल्म निर्माण के मामले में भारत सेल्युलाइड से डिजिटल में बदल गया। इसलिए इस फिल्म को बचाना ज्यादा जरूरी है।”

हिरानी ने विशिष्ट फिल्मोग्राफी के जरिए बनाई अलग जगह

FTII के पूर्व छात्र रहे हिरानी उन प्रमुख समकालीन भारतीय फिल्म निर्माताओं में से एक हैं, जिन्होंने वर्षों से अपनी विशिष्ट फिल्मोग्राफी के जरिए अपने लिए एक अलग जगह बनाई है। हिरानी को अपनी फिल्मों के माध्यम से सामाजिक मुद्दों को धाराप्रवाह तरीके से उठाने और समकालीन मुद्दों पर एक नया दृष्टिकोण प्रस्तुत करने के उनके हल्के-फुल्के अंदाज के लिए जाना जाता है।

NFAI में संरक्षित किए जा चुके हैं हिरानी की कई फिल्मों के मूल नेगेटिव

राजकुमार हिरानी की मुन्नाभाई एमबीबीएस (2003), लगे रहो मुन्नाभाई (2006) और 3 इडियट्स (2009) के मूल नेगेटिव पहले ही NFAI में संरक्षित किए जा चुके हैं।

News Stumphttps://www.newsstump.com
With the system... Against the system

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

लेटेस्ट अपडेट

error: Content is protected !!