25.1 C
New Delhi
Sunday, February 25, 2024
-Advertisement-

विष्णु पुराण सीरियल के 47 से 63 तक के एपिसोड को पूरी तरह नष्ट करें- राजा चौधरी

पटना: एक सामाजिक संस्स्था के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजा चौधरी ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर से सम्पर्क किया। और विष्णु पुराण सीरियल के 47 से 63 तक विवादित एपिसोड को पूर्णतः नष्ट करने की मांग की है।

चौधरी ने आरोप लगाया कि टीवी सीरियल विष्णु पुराण के एपिसोड संख्या क्रमांक 47 से लेकर 63 तक में कलवार समाज के आराध्य देव राजराजेश्वर भगवान श्री सहस्त्रार्जुन जी महाराज और उनके पुत्रों का चरित्र हनन किया गया है। इन एपिसोडों में उन्हें राक्षसी प्रवृत्ति का दर्शा कर व्याभिचारी, शिक्षा विरोधी, वर्गवादी, जातिवादी, क्रूर, अहंकारी और दमनकारी शासक के रूप में दर्शाया गया है।

यह पूर्णतः निराधार है और विष्णु पुराण में भी ऐसा कहीं कोई वर्णन नहीं है। बी. आर. चोपड़ा फिल्म्स के विष्णु पुराण सीरियल के प्रसारण का अधिकार दूरदर्शन और जीटीवी के पास है। इसे समय समय पर अपने विभिन्न चैनलों पर प्रसारित करते रहते हैं। अभी पिछले ही महीने सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय के आदेश से डीडी भारती और जीटीवी से विवादित एपिसोड को रुकवाया जा गया था।

उन्होंने बताया कि इसका पुनः प्रसारण दिल्ली दूरदर्शन के डीडी रेट्रो और 6 जुलाई से नेशनल नेटवर्क पर किया जा रहा है। चौधरी ने कहा कि यह स्थाई समाधान नहीं है। इसका स्थायी समाधान भी नितांत ही आवश्यक है। साथ ही वह यह भी चाहते हैं कि बाकी के निर्विवादित सभी एपिसोडों को सभी लोग बिना रुकावट के देख सकें।

उन्होंने अपील की है कि राजराजेश्वर भगवान श्री सहस्त्रार्जुन जी महाराज के करोड़ों भक्तों की आस्था और भावनाओं को ध्यान में रखें। मिथ्या तथ्यों पर आधारित टीवी सीरियल विष्णु पुराण के एपिसोड संख्या क्रमांक 47 से लेकर 63 तक को पूर्णत: नष्ट किया जाए।