20.7 C
New Delhi
Saturday, March 2, 2024
-Advertisement-

हड़ताली जूनियर डॉक्टरों पर बिहार सरकार सख्ती के मूड में

पटना: कोरोना काल में जूनियर डॉक्टरों की हड़ताल से स्वास्थ्य व्यवस्था प्रभावित हो रही है। लेकिन दूसरे दिन बिहार सरकार ने नहीं झुकने का संकेत दे दिया है। स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव प्रत्यय अमृत गुरुवार को पीएमसीएच तो गये लेकिन बातचीत की दिशा में कोई कदम नहीं उठाया।

काररवाई होगी : अधीक्षक

सूबे के जूनियर डॉक्टरों ने स्टाइपेंड बढ़ाने की मांग को लेकर बगैर कोई लिखित सूचना दिये हड़ताल कर दिया है। उन्होंने मरीजों का रजिस्ट्रेशन रोक ही नहीं बल्कि सीनियर डॉक्टरों को भी काम करने से रोक दिया। प्रधान सचिव ने प्रिंसिपल और अस्पताल अधीक्षक के साथ बैठक भी की। अधीक्षक ने उनको बताया कि जूनियर डॉक्टरों को कहा जा चुका है कि हड़ताल वापस लें नहीं तो कार्रवाई होगी।

प्रधान सचिव ने किया निरीक्षण

प्रधान सचिव ने कहा कि वे अस्पताल का निरीक्षण करने आये हैं। उन्होंने पीएमसीएच के ब्लड बैंक, एड्स जांच घर, कोविड आईसीयू और पोस्ट कोविड वार्ड का भी जायजा लिया। इसके अलावा लगायी गयी मशीनों और उनकी मौजूदा स्थिति की विस्तृत जानकारी ली।

अजय वर्मा
अजय वर्मा
समाचार संपादक