31.1 C
New Delhi
Wednesday, June 23, 2021
Advertisement

हड़ताली जूनियर डॉक्टरों पर बिहार सरकार सख्ती के मूड में

Advertisement

पटना: कोरोना काल में जूनियर डॉक्टरों की हड़ताल से स्वास्थ्य व्यवस्था प्रभावित हो रही है। लेकिन दूसरे दिन बिहार सरकार ने नहीं झुकने का संकेत दे दिया है। स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव प्रत्यय अमृत गुरुवार को पीएमसीएच तो गये लेकिन बातचीत की दिशा में कोई कदम नहीं उठाया।

काररवाई होगी : अधीक्षक

सूबे के जूनियर डॉक्टरों ने स्टाइपेंड बढ़ाने की मांग को लेकर बगैर कोई लिखित सूचना दिये हड़ताल कर दिया है। उन्होंने मरीजों का रजिस्ट्रेशन रोक ही नहीं बल्कि सीनियर डॉक्टरों को भी काम करने से रोक दिया। प्रधान सचिव ने प्रिंसिपल और अस्पताल अधीक्षक के साथ बैठक भी की। अधीक्षक ने उनको बताया कि जूनियर डॉक्टरों को कहा जा चुका है कि हड़ताल वापस लें नहीं तो कार्रवाई होगी।

Advertisement

प्रधान सचिव ने किया निरीक्षण

प्रधान सचिव ने कहा कि वे अस्पताल का निरीक्षण करने आये हैं। उन्होंने पीएमसीएच के ब्लड बैंक, एड्स जांच घर, कोविड आईसीयू और पोस्ट कोविड वार्ड का भी जायजा लिया। इसके अलावा लगायी गयी मशीनों और उनकी मौजूदा स्थिति की विस्तृत जानकारी ली।

Advertisement

अजय वर्मा
समाचार संपादक

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

लेटेस्ट अपडेट

error: Content is protected !!