30.1 C
New Delhi
Wednesday, October 20, 2021

बिहार में शराबबंदी सियासी तमाशा! सरकार बनते ही खत्म होगी शराब से पाबंदी, बोले- नागमणी

रोहतासः बिहार के सियासत में विकास की बातें अब पिछे छुटती जा रही हैं और शराबबंदी लोक लुभावन सियासी मुद्दा बनता जा रहा है। ताजा ममाला पूर्व कृषि मंत्री नागमणी से जुड़ा है, जिन्होंने घोषणा की है कि अगर उनकी सरकार बनती है, तो वे बिहार से शराबबंदी कानून को पूरी तरह खत्म कर देंगे। नागमणी ने यह घोषणा शनिवार को डिहरी में आयोजित एक संवाददाता सम्मेलन में की। संवाददाता सम्मेलन आगामी 30 सितंबर को गठित होने वाली उनकी नई पार्टी की तैयारियों से जुड़ा था।

Advertisement

संवाददाता सम्मेलन के दौरान नागमणी ने कहा कि बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार द्वारा लागू किए गए पूर्ण शराबबंदी राज्य में पूरी तरह से फेल है। शराब की बिक्री हर जगह आसानी से खुलेआम की जा रही है। उन्हों ने आरोप लगाया कि नीतीश कुमार के लोग शराब माफिया बने हुए हैं और उनको सरकार की तरफ से लूट मचाने की छुट दी गई है। उन्हों ने कहा कि अगर उनके पार्टी की सरकार बिहार में बनती है, तो सबसे पहले उनके द्वारा शराबबंदी को खत्म कर बिहार में शराब को शर्तो के आधार पर लागू किया जाएगा।

Advertisement

नागमणी का कहना है कि शराब पीना कोई गलत बात नहीं है, लेकिन शराब पीकर हंगामा करना और महिलाओं को पीटना यह गलत बात है। उन्हों ने कहा कि नीतीश कुमार ने महज़ कुछ महिलाओं के कहने पर बिहार में शराबबंदी लागू करा दिया है, जो पूरी तरह से विफल है। महिलाएं यही चाहती है कि उनका पति शराब पीकर आए तो उनके साथ मारपीट और हंगामा ना करें। लिहाजा, शराब को लागू करने के बाद यह नियम बनाए जाएंगे कि कोई भी व्यक्ति शराब पीकर घर में मारपीट ना करें और ना ही बाहर में शराब पीकर हंगामा करें। यदि कोई हंगामा करता है या अपनी पत्नी को पीटता है तो उसके विरुद्ध सख्त से सख्त कानूनी कार्रवाई करने का प्रावधान रहेगा।

Advertisement

News Stumphttps://www.newsstump.com
With the system... Against the system

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

लेटेस्ट अपडेट

error: Content is protected !!