17.1 C
New Delhi
Friday, March 1, 2024
-Advertisement-

पुष्पम प्रिया की प्लुरल्स के 28 उम्मीदवारों का नामांकन रद्द

पटनाः राजनीति की चौखट पर आते ही सीधे मुख्यमंत्री पद का दावा करने वाली पुष्पम प्रिया चौधरी को बड़ा झटका लगा है। प्लूरल्स पार्टी के करीब आधे उम्मीदवारों का नामांकन निर्वाचन आयोग ने रद्द कर दिया है। यह जानकारी पुष्पम ने खुद अपने फेसबुक पेज पर शेयर किया है। उन्होंने लिखा है, ‘प्लुरल्स उम्मीदवारों के 33 नामांकन स्वीकृत, 28 खारिज! लेकतंत्र अमर रहे!’

पुष्पम द्वारा किए पोस्ट से प्लुरल्स उम्मीदवारों के नामांकन रद्द किए जाने की जानकारी तो साफ हो गई, लेकिन अभी तक यह पता नहीं चल सका है किन उम्मीदवारों का नामांकन रद्द हुआ है और इसके पीछे क्या कारण है। हालांकि कुछ लोगों ने इस पर भी राजनीति करनी शुरु कर दी है। कुछ लोगों का मानना है इसके पीछे सत्ता में बैठे लोगों का हाथ है, क्योंकि वे पुष्पम फॉर्मुले से घबरा गए हैं।

28 उममीदवारों के नामांकन रद्द

बता दें बिहार की राजनीति में अखबार के विज्ञापन के जरिये एंट्री करने वाली पुष्पम प्रिया का संबंध दरभंगा के एक राजनीतिक परिवार से है। विदेश में पढ़ने और काम के अनुभव के बाद राजनीति में धमाकेदार एंट्री ली। जातिय राजनीति के जाल में जकड़े बिहार में स्वछ राजनीति का अलख जगाने वाली पुष्पम की पार्टी ने बिहार के सभी सीटों पर चुनाव लड़ने का ऐलान किया है। लेकिन ऐसी ख़बर है कि अब तक उनके 28 उम्मीदवारों का नामांकन रदृ हो चुका है, जबकि 33 के मंजूर हुए हैं।

दीघा और बिस्फी से लड़ेंगी पुष्पम

पुष्पम अपनी पार्टी की सीएम कैंडिडेट हैं और उन्होंने इस बार मधुबनी जिला के बिस्फी और पटना के बांकीपुर से चुनाव लड़ने का ऐलान किया है। बिस्फी विद्यापति की जन्मस्थली के रूप में जाना जाता है जिनका नाम लिए बगैर मिथिला का हर त्योहार हर राजनितिक मंच हर शादी विवाह अधूरा सा प्रतीत होता है।

अजय वर्मा
अजय वर्मा
समाचार संपादक