24 C
New Delhi
Sunday, February 25, 2024
-Advertisement-

केके पाठक को बर्दाश्त नहीं काम में कोताही, रोका इन कर्मियों का वेतन

पटनाः सीनियर आईएएस अधिकारी केके पाठक जिस किसी भी विभाग में जाते हैं, वहां हड़कंप मच जाता है। फिलहाल वे शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव हैं और जब से उन्होंने इसकी कमान संभाली है विभाग में हड़कंप मचा हुआ है। ताजा मामला विभाग के सभी प्रशाखा पदाधिकारियों, सहायकों और संचिका उपस्थापन से संलग्न लिपिकों का वेतन रोके जाने से जुड़ा है।

इस बाबत विभाग के निदेशक प्रशासन सुबोध कुमार चौधरी ने आदेश जारी किया है जिसमें कहा गया है कि प्रशाखाओं के निरीक्षण के क्रम में यह पाया गया है कि प्रशाखा पदाधिकारियों और सहायकों द्वारा संचिकाओं के विनष्ट करने के निर्देश का अनुपालन नहीं किया गया है। निरीक्षण के दौरान अनुपयुक्त और नष्ट करने योग्य संचिकाएं पाई गई। यह विभाग के निर्देश की अवहेलना है। इसलिए अगले आदेश तक के लिए उक्त कार्रवाई की गई है। वेतन बंद करने को लेकर आवश्यक कार्रवाई का निर्देश निकासी और व्ययन पदाधिकारी को दिया गया है।

आगे उस आदेश में लिखा गया है कि शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव केके पाठक के निर्देश पर रविवार को अभियान चलाकर ऐसी संचिकाओं को नष्ट करने और अन्य के निष्पादन की कार्रवाई की गई। तमाम पदाधिकारियों-कर्मियों को इस कार्य में लगाया गया था।

आपको बता दें, हाल में शिक्षा विभाग में बड़े बदलाव को लेकर केके पाठक लगातार चर्चा में हैं। विभाग के अधिकारी काम को लेकर गंभीर हो गए हैं और प्रदेश भर के स्कूलों में लगातार औचक निरीक्षण कर रहे हैं। वहीं पूरे बिहार की जनता की निगाहें उनके अगले कदमों की ओर टिकी हुई हैं।