14 C
New Delhi
Friday, February 23, 2024
-Advertisement-

सेवा ही मेरा धर्म, फिर से दें एक मौका : नीतीश

पटना: जदयू के चुनावी अभियान की शुरु करते हुए सीएम नीतीश कुमार ने आगाज करते हुए विकास की चर्चा तो की ही, लालू-राबड़ी राज पर भी हमला बोला। उन्होंने सेवा को अपना धर्म बताया और से मौका देने की अपील की।

फिर से मांगा मौका

नीतीश कुमार ने कहा कि हमारी सरकार ने दलितों की हत्या होने पर परिवार वालों को नौकरी देने का प्रावधान किया है। इस पर भी कुछ लोग सवाल उठा रहे हैं। क्या दलितों का उत्थान वो नहीं चाहते। हमने संविधान में जो अधिकार मिला था उसे नियम बनाकर लागू किया इसमें भी उनको परेशानी है,उन लोगों का वोट लेना ही मकसद है। आज तक तो वे लोग सिर्फ वोट लेकर बेवकूफ बनाते रहे। हम वोट की चिंता नहीं करते, सेवा ही हमारा धर्म है।

लालू राज पर हमला

उन्होंने लालू-राबड़ी राज पर बड़ा हमला बोला। उन्होंने कहा कि पहले कुछ काम होता था क्या…पहले आपदा में क्या होता था… आज जो लोग बोल रहे हैं उनके राज में कुछ होता था क्या? लिस्ट बनते ही रह जाता था लेकिन पीड़ित परिवार को कुछ नहीं मिलता था। हमलोगों की जब सरकार आई तो हमने कह दिया कि सरकारी खजाने पर पहला हक आपदा पीड़ितों का है। बिहार में कोरोना संकट हो या फिर बाढ़ की स्थित हो,हर समय हमारी सरकार ने आपदा पीड़ितों की सेवा की है।

बड़े नहीं पर छोटे उद्योग लगे ही

उन्होंने कहा कि आज कल कुछ लोग बिहार के बारे में आर्टिकल लिख रहे हैं। लेकिन ये नहीं देख रहे कि हमारा विकास दर 10 प्रतिशत से अधिक है। यह सही है कि कोई बड़ा उद्योग धंधे नहीं लगे लेकिन छोटे स्तर पर कई उद्योग लगे हैं। हमारे यहां ज्यादा बड़ा उद्योग नहीं लग सकता। हमलोगों ने काफी कोशिश की लेकिन बिहार में बड़े उद्योगपति नहीं आये। वे लोग समुद्री किनारे वाले राज्यों को पसंद करते हैं।

कल भी करेंगे वर्चुअल संवाद

सीएम ने सोमवार को 6 जिलों की 11 विधानसभा क्षेत्र के कार्यकर्ताओं के साथ वर्चुअल संवाद किया। 13 अक्टूबर को 5 जिलों की 11 विधानसभाओं में वर्चुअल संवाद करेंगें इसमें- मोकामा मसौढ़ी, पालीगंज, कुर्था, जहानाबाद, घोसी, संदेश, अगियांव, जगदीशपुर, डुमरांव और राजपूर शामिल है।

अजय वर्मा
अजय वर्मा
समाचार संपादक