गन प्वाइंट पर राहुल गांधी, कांग्रेस ने की केंद्र सरकार से जांच कराने की मांग

नई दिल्लीः अब तक की सबसे बड़ी खब़र अमेठी से आ रही है जहां नामांकन के दौरान कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी (Congress president Rahul Gandhi) की सुरक्षा में सेंध लगने की बात कही जा रही है। सुरक्षा में चूक का गंभीर आरोप लगाते हुए तीन वरिष्ठ कांग्रेसी नेताओं ने गृहमंत्री राजनाथ सिंह (Rajnath Singh) को एक पत्र लिखा है और केंद्र से जांच कराने को कहा है। पत्र के जरिए कांग्रेस ने राहुल गांधी की सुरक्षा विवरण से संबंधित प्रोटोकॉल को सख्ती से पालन कराए जाने की मांग की है।

नामांकन दाखिल करने गए थे अमेठी

जानकारी के मुताबिक बुधवार को अमेठी से लोकसभा सीट से नामांकन दाखिल (Nomination file) करने के बाद राहुल गांधी डीएम ऑफिस के बाहर पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे, उस समय राहुल गांधी (Rahul Gandhi)के सिर के हिस्से पर हरे रंग की लेजर (Green light Laser gun) से टार्गेट किया जा रहा था।

laser gun, Rahul Gandhi, Gun point

Laser gun से राहुल गांधी के सिर को बनाया गया निशाना

कांग्रेस नेताओं द्वारा गृहमंत्री राजनाथ सिंह (Rajnath Singh) को लिखे पत्र के मुताबिक हरे रंग की लेजर लाइट (Laser light) से राहुल गांधी के सिर को निशाना बनाते हुए कुल सात बार टार्गेट (Target) किया गया। पत्र में कांग्रेस ने राहुल के पिता पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी और दादी इंदिरा गांधी की हत्या का भी जिक्र किया है।

कांग्रेस ने केंद्रीय गृह मंत्रालय से कार्रवाई की मांग की

इस घटना को यूपी प्रशासन की ओर से एक खतरनाक चूक बताते हुए कांग्रेस ने केंद्रीय गृह मंत्रालय (Ministry of home affairs) से शीघ्र कार्रवाई की मांग की है। कांग्रेसी नेता अहमद पटेल (Ahmed Patel), रणदीप सिंह सुरजेवाला (Randeep Singh Surjewala) और जयराम रमेश (Jayram Ramesh) द्वारा हस्ताक्षर किए पत्र में सरकार से कहा गया है कि किसी भी राजनीतिक मतभेद के बावजूद राहुल गांधी (Congress president Rahul Gandhi) की सुरक्षा आपकी सरकार और मंत्रालय की पहली ज़िम्मेदारी है।

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here