भारतीय अटल सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष हरीजी तिवारी का इस्तीफा, पटना साहिब से लड़ेंगे चुनाव

पटनाः भारतीय अटल सेना के संस्थापक सह राष्ट्रीय अध्यक्ष हरीजी तिवारी (Hari jee Tiwari) ने संगठन के अपने सभी महत्वपूर्ण पदों से इस्तीफा दे दिया है। यह इस्तीफा उन्होंने सक्रिय राजनीति में उतरने को लेकर नैतिक आधार पर दिया है। हरीजी तिवारी 17वीं लोकसभा चुनाव में पटना साहिब से निर्दलीय उम्मीदवार (Independent candidate from Patna Sahib) के तौर पर चुनाव लड़ने की तैयारी में हैं। हरीजी तिवारी (Hari jee Tiwari) के बाद उदय प्रताप शर्मा (Uday Pratap Sharma) अब भारतीय अटल सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष होंगे (National president of Bhartiya Atal Sene)।

इस बाबत एक प्रेस नोट जारी करते हुए हरीजी तिवारी (Hari jee Tiwari) ने बताया कि पूर्व प्रधानमंत्री श्रधेय अटल बिहारी वाजपेयी के सिद्धांतों के साथ बनी और चलाई जा रही भारतीय अटल सेना एक सामाजिक संगठन है, जिसका उनके सक्रिय राजनीति में प्रवेश करने कोई वास्ता नहीं है। इस संगठन का उनके चुनाव लड़ने से भी कोई संबंध नहीं है। यह संगठन अपने वाजपेयीजी के पदचिन्हों पर अपने मूल स्वरूप के अनुकूल अनवरत चलता रहेगा।

बता दें मूल रुप से भोजपुर जिले के पिरो (Piro) से ताल्लुक रखने वाले हरीजी तिवारी (Hari jee Tiwari) पूर्व में भाजपा के सक्रिय कार्यकर्ता रह चुके हैं। 1985-86 में युवा सदस्य के रुप में संघ जुड़े हरीजी तिवारी ने 18 वर्ष की आयु से बीजेपी को अपना बेहतर समर्थन और वक्त दिया है। वे दो बार बिहार प्रदेश भाजपा सहकारिता मंच कार्यसमिति के सदस्य रह चुके हैं। इससे पहले वे भोजपुर जिले के पिरो से भाजपा के मंडल अध्यक्ष भी रह चुके हैं।

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here