लाख टके का सवाल, गिरेंगे या संभल जायेंगे लालू के लाल

तेज प्रताप, tej pratap

पटना: फोटो देखकर कोई भी पहचान जायेगा कि ये चर्चित नेता तेज प्रताप हैं। वो पार्टी की साइकिल रैली के दौरान अपने ही सुरक्षाकर्मी के वाहन से टकराकर गिर गये थे। सोशल साइट पर खोजेंगे तो उनके कई रूप मिल जायेंगे मसलन शंख फूंकते हुए, बघछाला पहन कर महादेव की तरह तपस्या में लीन तो घास पर बैठकर फाइलें देखते। ब्रांड बन चुके परिवार के हैं सो बात ही निराली है।

लौटिये साइकिल से बीच बाजार गिरने पर। उस वक्त समझा गया कि आज गिरे हैं तो कल संभल जायेंगे, लेकिन आगे के हालात संभलने की बजाए गिरते ही जाने को संकेत दे रहे हैं। वेसे हर कोई दुआ करता है कि अब तेज प्रताप न गिरें…न काम में न राजनीति में न पारिवारिक स्तर पर। ऐसा इसलिए कहना पड़ रहा है कि शादी के 6 माह में ही तेज प्रताप ने तलाक फाइल कर दिया है, जिसके लिए 29 को सुनवाई होनी है।

Read also: कुछ तो मजबूरियां रही होंगी, वरना यूं हीं कोई बेवफा नहीं होता

तेज प्रताप तो अपने फैसले पर खूंटा ठोक चुके हैं, लेकिन परिवार पत्नी ऐश्वर्या के साथ है और ससुर चंद्रिका राय संभवत: ब्रांडेड परिवार से रिश्ता कर पछता रहे होंगे। परिवार में ऐसा हुआ होगा, लेकिन तेज प्रताप की तरह मामले को कोई मीडिया में नहीं ले गया।

किसी ने यह नहीं कहा कि बीवी ने मारा…ये किया…वो किया…सब कुछ सामने आया, तो तेजप्रताप के हवाले से ही। फिलहाल पिंड छुड़ाने की बेचैनी और दबाव से बचने को बिहार से बाहर ही वक्त गुजार रहे हैं। हालांकि बेमेल शादी होना कोई नया किस्सा नहीं है समाज का, लेकिन इसे चटकारे लेकर देखने का नजरिया भी तो उन्हीं की देन है।

Read also: पांच महिने भी नहीं चल पाई तेजप्रताप की शादी, कोर्ट में दायर की तलाक की अर्जी

बहरहाल 29 को सुनवाई होनी है। इसे लेकर कई तरह के कयास लगाये जा रहे हैं। मसलन 12 महीना पूरा न होने की बजह से कोर्ट भी वैसा फैेसला नहीं देगी जैसा वे चाहते हैं। लेकिन उसके प्रयास से मामला शांत हो जाता है, पैचअप हो जाता है, तो कम से कम लालू प्रसाद की सेहत संभल जायेगी। हम यही दुआ भी कर सकते हैं। तब लगेगा कि तेज प्रताप गिरकर फिर संभल गये।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here