विश्‍व होम्‍योपैथी दिवस पर दो दिवसीय अंतर्राष्‍ट्रीय सम्‍मेलन आज से

CCRH, केन्‍द्रीय होम्‍योपैथी अनुसंधान परिषद

नई दिल्लीः विश्‍व होम्‍योपैथी दिवस (world homoeopathic day) पर केन्‍द्रीय होम्‍योपैथी अनुसंधान परिषद (CCRH) की ओर से 9 और 10 अप्रैल को डॉ. अम्‍बेडकर अंतर्राष्‍ट्रीय केन्द्र (International Center) में दो दिवसीय सम्‍मेलन का आयोजन किया गया है। CCRH आयुष मंत्रालय के तहत एक स्‍वायत्‍त अनुसंधान संगठन है। विश्‍व होम्‍योपैथी दिवस (world homoeopathic day) होम्‍योपैथी के संस्‍थापक डॉ. क्रिश्‍चियन फ्रेडरिक सेमुएल हनीमैन के जन्‍मदिवस के अवसर पर आयोजित किया जाता है।

इस सम्‍मेलन में आयुष मंत्रालय में सचिव वैद्य राजेश कोटेचा, आयुष मंत्रालय में संयुक्‍त सचिव रोशन जग्‍गी, केन्‍द्रीय होम्‍योपैथी परिषद के बोर्ड ऑफ गवर्नर्स के अध्‍यक्ष नीलांजल सान्‍याल और श्री त्रिदंडी चिन्‍ना रामानुज जीयार स्‍वामीजी उपस्थित रहेंगे। होम्‍योपैथी संकाय, ब्रिटेन के अध्‍यक्ष डॉ. गैरी स्मिथ और LMHI (अंतर्राष्‍ट्रीय) के अध्‍यक्ष डॉ. आलोक पारीक की ओर से श्रद्धांजलि अर्पित की जायेगी।

इस अवसर पर होम्‍योपैथी के क्षेत्र में असाधारण कार्यों को मान्‍यता देने के उद्देश्‍य से  होम्‍योपैथी से संबंधित आयुष पुरस्‍कार –लाईफ टाइम अचिवमेंट, बेस्‍ट टीचर, युवा वैज्ञानिक और सर्वश्रेष्‍ठ अनुसंधान प्रदान किया जायेगा। इस बार विश्‍व होम्‍योपैथी दिवस पर 24 छात्रों को होम्‍योपैथी के क्षेत्र में अल्‍पकालिक छात्रवृति योजना के तहत छात्रवृ‍त्तियां प्रदान की जाएंगी और चार छात्रों को ’होम्‍योपैथी में क्‍वालि‍टी एम.डी. डिसर्टेशन’ के लिए छात्रवृत्तियां प्रदान की जाएंगी।

अनुसंधान के साथ शिक्षा को जोड़ने के प्रयास के तहत दो और पीजी होम्‍योपैथी महाविद्यालयों के साथ सहमति-पत्र पर हस्‍ताक्षर किये जाएंगे। अनुसंधान सुविधाओं पर जोर देना, इस समझौते का लक्ष्‍य है। इसके परिणामस्‍वरूप छात्र अनुसंधान से जुड़ेंगे। इसके अलावें इस सम्‍मेलन में होम्‍योपैथी से संबंधित अनेक विषयों पर विचार-विमर्श भी किया जाएगा।

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here