विधायक राहुल तिवारी का शागिर्द निकला कमल किशोर मिश्र का हत्यारा

विधायक राहुल तिवारी, कमल किशोर मिश्र

भोजपुरः किसी ने कहा है तस्वीरें झुठ नहीं बोलतीं। अगर ये सच है तो न्यूज़ स्टंप के हाथ लगी सनसनिखेज खुलासा करती  इस तस्वीर पर जरा गौर फरमाइए। इस तस्वीर में एक चेहरा तो शाहपुर से राजद विधायक राहुल तिवारी का है, लेकिन दुसरा चेहरा विशेश्वर ओझा हत्याकांड के मुख्य गवाह कमल किशोर मिश्र के हत्यारे किशुन मिश्र का है।

पुलिसिया सुत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक किशुन मिश्र विधायक राहुल तिवारी के निजी सुरक्षा दस्ते का कमांडर है। किशुन मिश्र की गिनती विधायक राहुल तिवारी के सबसे विश्वस्त और खास शागिर्दों में की जाती है। वो विधायक राहुल तिवारी के एक इशारे पर जान देने और लेने दोनो के लिए तैयार रहता है। इस तस्वीर में साफ तौर पर देखा जा सकता है कि हत्यारा किशुन राहुल तिवारी का कितना करीबी है। पुलिस किशुन मिश्रा के काल डिटेल्स भी खंगाल रही है।

Read Also: विशेश्वर ओझा हत्याकांड पर भोजपुर SP को पटना हाइकोर्ट का सख्त निर्देश

Read Also: विशेश्वर हत्याकांड के गवाह कमल मिश्र हत्याकांड में पुलिस की कार्रवाई तेज, दो गिरफ्तार

बता दें विगत दिनों विशेश्वर ओझा हत्याकांड के मुख्य गवाह कमल किशोर मिश्र की हत्या अपराधियो द्वारा घात लगा पीछे से गोली मार कर दी गयी थी। हत्याकांड के चश्मदीद गवाह व मृतक के पिता के इकबालिया बयान के आधार पर 5 लोगों पर नामजद प्राथमिकी दर्ज कराई है जिन में किशुन मिश्र मुख्य अभियुक्त है।

मृतक कमल किशोर मिश्र के परिजनों के मुताबिक कमल को विगत कई दिनों से नामजद अभियुक्तों द्वारा जान मारने की धमकी दी जा रही थी । अभियुक्त चाहते थे कि विशेश्वर ओझा हत्याकांड में कमल गवाही न दें, पर कमल किशोर मिश्र नही माने और अंततः उनकी हत्या कर दी गई।

कमल किशोर मिश्र के पारिवार वालों का कहना है कि कमल की हत्या एक सोची- समझी प्लानिंग का हिस्सा है। उनका कहना है कि सुरक्षा के मद्दे नज़र कमल को पहले गार्ड दिया गया फिर एक बड़े नेता के इशारे पर छापेमारी कराई गई और उसी बहाने गार्ड को हटाकर हत्या करा दी गई।

Read Also: विशेश्वर ओझा हत्याकांड के मुख्य गवाह की गोली मारकर हत्या

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here